Uttarakhand TET Exam Paper 1 (Second Language – Hindi) Answer Key: 24 March 2021

  • UTET

Q76. वर्णिक छन्द का उदाहरण है
(A) सर्वैया
(B) दोहा
(C) सोरठा
(D) बरवै

Q77. अर्थालंकार है
(A) यमक
(B) व्यतिरेक
(C) वक्रोक्ति
(D) श्ले ष

Q78. पूर्वी हिन्दी की बोली है
(A) बघेली
(B) मगही
(C) बुंदेली
(D) भोजपुरी

Q79. अघोष वर्ण नहीं है
(A) श, प
(B) प, फ
(C) य,र
(D) ट,ठ

Q80. अल्पप्राण व्यंजन नहीं होता है
(A) प्रत्येक वर्ग का पहला वर्ण
(B) प्रत्येक वर्ग का दूसरा वर्ण
(C) प्रत्येक वर्ग का तीसरा वर्ण
(D) प्रत्येक वर्ग का पांचवां वर्ण

निर्देश – निम्नलिखित गद्यांश को पढ़कर पूछे गये प्रश्नों (प्रश्न संख्या Q81 से Q85 तक) के सर्वाधिक उचित उत्तर वाले विकल्प का चयन कीजिए।

साहित्योन्नति के साधनों में पुस्तकालयों का स्थान अत्यन्त महत्वपूर्ण है। इनके द्वारा साहित्य के जीवन की रक्षा, पुष्टि और अभिवृद्धि होती है। पुस्तकालय, सभ्यता के इतिहास का जीता जागता गवाह है। इसी के बल पर वर्तमान भारत को अपने अतीत गौरव पर गर्व है। पुस्तकालय भारत के लिये कोई नई वस्तु नहीं है। लिपि के आविष्कार से आज तक लोग निरन्तर पुस्तकों का संग्रह करते रहे हैं। पहले देवालय, विद्यालय, नृपालय इन संग्रहों के प्रमुख स्थान होते थे। इनके अतिरिक्त विद्वत्जनों के अपने निजी पुस्तकालय भी होते थे। मुद्रण कला के आविष्कार से पूर्व पुस्तकों का संग्रह करना आजकल की तरह सरल बात न थी। आजकल साधारण स्थिति के पुस्तकालय में जितनी सम्पत्ति लगती है, उतनी उन दिनों कभी-कभी एक-एक पुस्तक की तैयारी में लग जाया करती थी। भारत के पुस्तकालय संसार भर में अपनी सानी नहीं रखते थे। प्राचीन काल में मुगल सम्राटों के समय तक यही स्थिति रही। चीन-फारस प्रभृति सुदूर स्थित देशों से झुण्ड के झुण्ड विद्यानुरागी लम्बी यात्रायें करके भारत आया करते थे।

Q81. गद्यांश का उचित शीर्षक क्या हो सकता है?
(A) पुस्तकालय और भारत
(B) साहित्योचति के साधन
(C) सभ्यता के इतिहास का गवाह
(D) पुस्तकालय

Q82. पुस्तकालयों के द्वारा भारत को क्या गौरव प्राप्त था?
(A) ये संसार भर में अपनी सानी नहीं रखते थे।
(B) ये मुगल सम्राटों की प्रसिद्धि के कारणरूप थे।
(C) इनके कारण चीन, फारस आदि देशों से विद्यानुरागी भारत आया करते थे।
(D) इन्हीं के कारण भारत दुनियाँ में प्रसिद्ध था।

Q83. पुराने समय में पुस्तकालय में अधिक व्यय क्यों होता था?
(A) निजीकरण के कारण
(B) मुद्रण की व्यवस्था न होने के कारण
(C) सरकारी संरक्षण के कारण
(D) विदेशी यात्रियों के कारण

Q84. साहित्य की उन्नति का सबसे अधिक महत्वपूर्ण साधन क्या है
(A) पुस्तकालय
(B) सभ्यता
(C) विद्यालय
(D) नृपालय

Q85. पुस्तकालय का प्रारम्भ कब से हुआ?
(A) मुद्रण कला के आविष्कार के साथ
(B) विद्यालय की स्थापना के साथ
(C) नृपालय की स्थापना के साथ
(D) लिपि के आविष्कार के साथ

निर्देश – निम्नलिखित गद्यांश को पढ़कर पूछे गये प्रश्नों (प्रश्न संख्या Q86 से 90 तक) के सर्वाधिक उचित उत्तर वाले विकल्प का चयन कीजिए।

प्रत्येक राष्ट्र की अपनी एक सांस्कृतिक धरोहर होती है.. जिसके बल पर वह प्रगति के पथ पर अग्रसर होता रहता है। मानव युग-युग में अपने जीवन को अधिक सुखमय, उपयोगी, शान्तिमय और आनन्दपूर्ण बनाने का प्रयास करता रहता है। इस प्रयास का आधार वह सांस्कृतिक धरोहर होती है, जो प्रत्येक प्राणी को विरासत में मिलती है और इस प्रयास के फलस्वरूप मानव अपना विकास करता है। कुछ लोग सभ्यता और संस्कृति को एक ही मानते हैं। यह उनकी भूल है। यों तो संस्कृति और सभ्यता में घनिष्ठ सम्बन्ध है किन्तु संस्कृति मानव जीवन को श्रेष्ठ एवं उन्नत बनाने की साधनाओं का नाम है और सभ्यता उन साधनाओं के फलस्वरूप उपलब्ध हुई जीवन प्रणाली का नाम है। सभ्यता के अन्तर में बहने वाली विचारधारा को हम संस्कृति कह सकते हैं। संस्कृति अच्छी या तरी हो सकती है। किसी राष्ट्र की सभ्यता का मूल्यांकन हम उसकी संस्कृति के आधार पर कर सकते हैं। प्रत्येक राष्ट्र की संस्कृति वहाँ की भौगोलिक परिस्थितियों पर निर्भर है। प्रकृति का मानव जीवन को प्रभावित करने में बड़ा महत्वपूर्ण हाथ रहता है।

Q86. इस अवतरण का उपयुक्त शीर्षक है
(A) सभ्यता
(B) संस्कृत
(C) सभ्यता और संस्कृति
(D) राष्ट्र

Q87. ‘धरोहर’ का अर्थ है
(A) पूँजी
(B) आनन्द
(C) विरासत
(D) साधना

Q88. किसी राष्ट्र की सभ्यता का मूल्यांकन हम किस आधार पर करते हैं
(A) धरोहर
(B) संस्कृति
(C) मानव जीवन
(D) जीवन प्रणाली

Q89. सभ्यता व संस्कृति में क्या अन्तर है?
(A) सभ्यता संस्कृति के अन्तर में बहने वाली विचारधारा है।
(B) संस्कृति तथा सभ्यता में कोई अन्तर नहीं।
(C) सभ्यता साधना है संस्कृति जीवन प्रणाली।
(D) सभ्यता का सम्बन्ध जीवन के वाह्य पक्ष से है जबकि संस्कृति का आन्तरिक पक्ष से।

Q90. संस्कृति
(A) भौगोलिक परिस्थितियों पर निर्भर करती
(B) राजनीतिक परिस्थितियों पर निर्भर करती
(C) धार्मिक परिस्थितियों पर निर्भर करती है।
(D) आर्थिक परिस्थितियों पर निर्भर करती है।

Pages: 1 2

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *