Uttarakhand D.El.Ed Exam Answer Key (Hindi) – 4 December 2020

Uttarakhand DElEd Entrance ExamAnswer Key - 04 December 2020

161. यदि आपको पता चलता है कि आपकी कक्षा में कोई बच्चा अल्पदृष्टि बाधित है तो निम्नलिखित में से कौन सा तरीका सबसे अच्छा है
(A) उसको श्यामपट्ट के नजदीक बिठाएंगे।
(B) उसको प्रतिभावान बच्चों के बीच बिठाएंगे।
(C) जहाँ वह रोज बैठता है, वही बैठने देंगे।
(D) उसको श्यामपट्ट के नजदीक बिठाएंगे और श्यामपट्ट में बड़े-बड़े अक्षरों का प्रयोग करेंगे।

162. बच्चों के विकास के विभिन्न पहलुओं की समझ एक शिक्षक के लिए आवश्यक है क्योंकि इसत्ते
(A) शिक्षक को बच्चों की वैयक्तिक भिन्नता के अनुरूप कक्षा-शिक्षण करने में सहायता मिलेगी।
(B) शिक्षक को बच्चों को समझने में सहायता मिलेगी।
(C) (A) व (B) दोनों
(D) केवल (A)

163. निम्नलिखित में से एक स्व-अभिपोरित बच्चे के लक्षण है
(1) वो हर कार्य को करने से उत्साहित है।
(2) कार्य करते समया श्रेणी की ऊर्जा प्रदर्शित करता है। (3) डांट के भय से कार्य करता है।
सही विकल्प का चयन कीजिये।
(A) 1, 2 व 3
(B) 1 व 2
(C) 2 व 3
(D) 1 व 3

164, आकलन का क्या उद्देश्य होना चाहिए –
(A) विद्यार्थियों को नई कक्षा में प्रवेश देना
(B) बच्चों के उपलब्धि स्तर को जाँचना
(C) सीखने के दौरान कमियों की पहचान व निराकरण
(D) बच्चों ने कितना प्रतिशत पश्नपत सही किया यह देखना

165, “समान शैक्षिक अवसर” इस कथन से तात्पर्य है.
(1) सभी लोगों को एक जैसी शिक्षा देना।
(2) सभी को समान अवसर प्रदान करना जिससे वे अपनी योग्यता के अनुरूप शिक्षा प्राप्त कर सके।
(3) सभी को शिक्षा प्राप्त करने के लिए योजनाएँ बताना। सही विकल्प का चयन कीजिए
(A) 1 व 2
(B) 2 व 3
(C) केवल 1
(D) केवल 2

166. निम्नलिखित में से कौन सा कथन शिक्षण के संदर्भ में सत्य है –
(A) उत्तम शिक्षण वह है जिसमें शिक्षक और शिक्षार्थी दोनों क्रियाशील रहते हैं।
(B) शिक्षण का अर्थ है कि विद्यार्थियों को अधिक से अधिक जानकारी देना।
(c) शिक्षण का अर्थ है श्रव्य-दृश्य सामग्री का प्रयोग करना।
(D) शिक्षण वह प्रक्रिया है जिसमें विद्यार्थी, शिक्षक के विचारों से प्रभावित होते हैं।

167. विद्यार्थियों में नैतिक गुणों का विकास तब हो सकता है जब –
(A) शिक्षक नैतिक गुणों से संबंधित कहानियाँ सुनाएँ।
(B) स्वयं नैतिक गुणों का अनुकरण करें व विद्यार्थियों को अभिप्रेरित करें।
(C) समय-समय पर विद्यार्थियों को नैतिक गुणों पर सामग्री एकत्रित करने के लिए कहे।
(D) आध्यात्मिक विषय पर शिक्षक बच्चों से बातचीत करे।

168. यदि कोई शिक्षक अपने विषय का पाठ्यक्रम समय पर पूरा नहीं कर पाता है तो सबसे अच्छा तरीका कौन सा होगा जो उसे करना चाहिए –
(A) पाठ्यक्रम पूरा करने के लिए अतिरिक्त कक्षाएँ लेनी चाहिए।
(B) जहाँ तक पढ़ाया है वही तक के प्रश्न पूछने चाहिए।
(C) अधूरे पाठ्यक्रम से केवल महत्वपूर्ण प्रश्न और उत्तर बच्चों को बताने चाहिए।
(D) विद्यार्थियों को पाठ्यक्रम स्वयं पूरा करने के लिए कहना चाहिए।

169. यदि किसी शिक्षक को कक्षा-शिक्षण के दौरान विद्यार्थी द्वारा पूछे गए प्रश्न का उत्तर नहीं आता है तो उसे
क्या करना चाहिए
(A) विद्यार्थी को ऐसे ही उत्तर दे देना चाहिए।
(B) उसे डाँटकर बैठने के लिए कहना चाहिए।
(C) उसे कहना चाहिए कि वो इसका उत्तर विस्तार से अध्ययन के बाद बताएँगे।
(D) उसे कक्षा-कक्ष से बाहर जाने के लिए कहेंगे।

170. यदि आपकी कक्षा में कोई विद्यार्थी अधिकत्तर अनुपस्थित राहता तो, आप क्या करेंगे .
(A) इस विषय में प्रधानाचार्य को सूचित करेंगे।
(B) इस ओर ध्यान नहीं देंगे।
(C) उसके कक्षा में अनुपस्थित होने का कारण जानेंगे।
(D) उसका नाम उपस्थिति पंजिका से काट देंगे।

171. विद्यालय में शिक्षक-अभिभावक बैठक आयोजित करने के क्या उद्देश्य होने चाहिए
(A) अभिभावकों को बच्चे के विषयवार अंकों के बारे में सूचना रोना।
(B) बच्चे के सबल एवं कमजोर पक्षों के विषय में चर्चा करना।
(C) बच्चे जिन विषयों में अच्छा प्रदर्शन नहीं कर पा रहे हैं, केवल यह बताना।
(D) बच्चे की उपलब्धियों को ही बताना।

172. एक अच्छे शिक्षक को विद्यार्थियों द्वारा किए गए कक्षा-कार्य को कैसे जाँचना चाहिए।
(A) कक्षा-कार्य पूर्ण होने के एक सप्ताह के भीतर।
(B) जब शिक्षक के पास समय हो तब।
(C) कार्य के पूर्ण होने के तुरंत बाद जिसमें शिक्षक के हस्ताक्षर हो।
(D) कार्य के पूर्ण होने के तुरंत बाद जिसमे बच्चे के सन्दर्भ में त्रुटियों एव सुधर का उल्लेख हो ।

173. शिक्षक-व्यवहार के सम्बन्ध में कौन सा वधन सही नहीं है
(A) शिक्षक-व्यवहार विश्वसनीय होता है।
(B) शिक्षक-व्यवहार निश्चित होता है।
(C) शिक्षक व्यवहार बाह्य व्यवहारो तथा लक्षणों द्वारा प्रदर्शित होता है।
(D) शिक्षक-व्यवहार वैयत्तिका विशेषताओ जियात्मक का।

174. एक अध्यापक को शैक्षिक मनोविज्ञान का ज्ञान अवश्य होना चाहिए ताकि वह –
(A) शिक्षा के उद्देश्यों को समझ सके।
(B) उचित शिक्षण विधियों का विकास कर सके।
(C) उचित विषय-वस्तु का चयन कर सके।
(D) मूल्यांकन की सही विधियाँ अपना सके।

175. बच्चे के अवांछनीय संवेगों के सम्बन्ध में निम्नलिखित में से कौन सा व्यवहार सबसे कम प्रभावी है?
(A) बच्चे में सुरक्षा भाव भरना।
(B) अपने संवेगों से मुकाबला करने के लिए उसमें कुछ योग्यताएं पैदा करना।
(c) बच्चे को दण्ड देना तथा कहना कि वह ऐसा कार्य दोबारा न करें जो अच्छा नहीं है।
(D) बच्चे की योग्यता तथा उसकी महत्वाकांक्षाओं के बीच की खाई को भरना अथवा उसके ऊपर लादा गया बोझ कम करना।

176. निम्नलिखित में से कौन सा कथन गृहकार्य के सम्बन्ध में सर्वाधिक उपयुक्त है –
(i) गृहकार्य छात्रों की प्रवृत्तियों एवं स्तर के अनुकूल होने चाहिए।
(ii) गृहकार्य का स्वरूप भाषा की दृष्टि से शुद्ध होना चाहिए।
(iii) गृहकार्य को क्रमागत होना चाहिए।
(iv) गृहकार्य उद्देश्य केन्द्रित होना चाहिए।
सही विकल्प का चयन कीजिए –
(A) (i), (ii), (iv)
(B) (ii), (ii), (iv)
(C) (i), (ii), (ii)
(D) उपरोक्त सभी

186. बच्चों के व्यवहार का सूक्ष्म निरीक्षण करते समय शिक्षकों को किन बातों का विशेष ध्यान रखना चाहिए
(i) प्रत्येक विद्याधी को व्यवहार के प्रत्येक लक्षण में बराबर महत्त्व देना।
(ii) प्रत्येक विद्यार्थी का विविध प्रकार की परिसिजन से कक्षा समिति के काम, वाद-विवाद, खाने की छुट्टी आदि में निरीक्षण करना।
(iii) प्रत्येक विद्यार्थी की समूह के अन्य व्यक्तियों से तुलना करना।
(iv) अपने पूर्वाग्रहों के प्रति सावधान रहना।
सही विकल्प का चयन कीजिए –
(A) (i), (ii)
(B) (i), (ii), (iii), (iv)
(C) (i), (ii), (iv)
(D) (i), (ii), (ii)

187. निम्नलिखित में से सही कथन का चयन कीजिए –
(A) एक विद्वान को अपना विषय तैयार करने और कक्षा में जाने की आवश्यकता नहीं है।
(B) अनुभवी अध्यापकों के लिए यह आवश्यक नहीं है कि वे कक्षा में जाने से पूर्व तैयारी करें।
(C) अध्यापक को अनुभव अथवा विद्वता का विचार किए बिना, कक्षा में हर बार जाने से पहले तैयारी करने की आवश्यकता है।
(D) एक कुशल अध्यापक बिना तैयारी के कक्षा में काम चला सकता है।

188. निम्नलिखित की समीक्षा कीजिए
आधार कथन (A) : कक्षा में अध्यापन-कार्य में तरह-तरह की युक्तियाँ सम्मिलित होनी चाहिए।
कारण (R) : छात्रों की अधिगम शैली में व्यक्तिगत विभिन्नताएँ होती हैं।
(A) (A) और (R) दोनों सही हैं तथा (R), (A) का सही कारण है।
(B) (A) और (R) दोनों सही हैं किन्तु (R), (A) का सही कारण नहीं है।
(C) केवल (R) सही है।
(D) केवल (A) सही है।

180. एक अध्यापक विद्यार्थियों को पढ़ा रहा है कि यदि दूसरों के विचार आपके विचारों के विपरीत हों, तो भी उन्हें उत्तेजित नहीं होना चाहिए। वह उनके………. का ध्यान रख रहा है
(A) संज्ञानात्मक विकास
(B) भावात्मक विकास
(C) शारीरिक विकास
(D) सामाजिक विकास

Pages: 1 2 3 4 5 6 7 8 9 10

3 thoughts on “Uttarakhand D.El.Ed Exam Answer Key (Hindi) – 4 December 2020”

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *