UPTET 2017 – Paper – I (Child Development and Pedagogy) Answer Key

60 mins read

परीक्षा (Exam) – UPTET (UttarPradesh Teacher Eligibility Test) Paper I (Classes I to V)
भाग (Part) – Part – 1 – बाल विकास और शिक्षाशास्त्र (Child Development and Pedagogy)
परीक्षा आयोजक (Organized) –  UPBEB

कुल प्रश्न (Number of Question) – 30
परीक्षा तिथि (Exam Date) – 2017


Q1. लेव वाइगोत्सकी के समाज संरचना सिद्धान्त में दृढ़ विश्वास रखने वाले शिक्षक के नाते आप अपने बच्चों के आकलन के लिए निम्नलिखित में से किस विधि को वरीयता देंगे?
(1) मानकीकृत परीक्षण
(2) सहयोगी प्रोजेक्ट
(3) तथ्यों पर आधारित प्रत्यास्मरण के प्रश्न
(4) वस्तुपरक बहुविकल्पी प्रकार के प्रश्न

Q2. अपनी कक्षा की वैयक्तिक भिन्नताओं से निपटने के लिए शिक्षक को चाहिए कि
(1) बच्चों को उनके अंकों के आधार पर अलग कर उनको नामित करें
(2) शिक्षण और आकलन के समान और मानक तरीके हों
(3) बच्चों से बातचीत करें और उनके दृष्टिकोण को महत्व
(4) विद्यार्थियों के लिए कठोर नियमो को लागू करें

Q3. आकलन उद्देश्यपूर्ण होता है यदि
(1) इससे विद्यार्थियों और शिक्षकों को प्रतिपुष्टि (फीडबैक) प्राप्त हो
(2) इससे विद्यार्थियों में भय और तनाव का संचार हो
(3) यह केवल एक बार वर्ष के अंत में हो
(4) विद्यार्थियों की उपलब्धियों में अंतर करने के लिए तुलनात्मक मूल्यांकन किए जाएँ

Q4. राष्ट्रीय पाठ्यचर्या की रूपरेखा (एन. सी. एफ.) 2005 के अनुसार शिक्षक की भूमिका है
(1) अधिनायकीय
(2) सत्तावादी
(3) अनुमतिपरक
(4) सुविधादाता

Q5. अनुसंधान सुझाते है कि एक विविध कक्षा में अपने विद्यार्थियों से शिक्षिका की अपेक्षाएँ विद्यार्थियों के आधगम
(1) का एक मात्र निर्धारक होती है
(2) पर महत्वपूर्ण प्रभाव छोड़ती है
(3) के साथ संबंधित नहीं मानी जानी चाहिए
(4) पर कोई प्रभाव नहीं छोड़ती

Q6. विशेष आवश्यकता वाले बच्चों को शामिल करना
(1) जिनमें अक्षमता न हो उन बच्चों के लिए हानिकारक है
(2) एक काल्पनिक लक्ष्य है।
(3) विद्यालयों पर भार बढ़ा देगा
(4) शिक्षण के प्रति दृष्टिकोण, विषयवस्तु और धारण परिवर्तन की अपेक्षा रखता है।

Q7. “विविध प्रकार की सामाजिक, आर्थिक और सांस्कृतिक पृष्ठभूमि के बच्चों से युक्त कक्षा सभी विद्यार्थियों के अधिगम अनुभवों को बढ़ाती है।” यह कथन है
(1) सही, क्योंकि बच्चे अपने साथियों से अनेक कौशल सीखते है
(2) गलत, क्योंकि यह बच्चों के लिए दुविधा उत्पन्न कर सकता है और वे स्वयं को अलग-अलग महसूस कर सकते
(3) सही, क्योंकि इससे कक्षा अधिक श्रेणीबद्ध दिखाई देती
(4) गलत, क्योंकि यह अनावश्यक स्पर्धा की ओर ले जाता

Q8. सुनने में असमर्थ बच्चा
(1) केवल अकादमिक शिक्षा में लाभ नहीं उठा पाएगा, उसे उसके स्थान पर व्यवसायिक शिक्षा दी जानी चाहिए
(2) श्रवण असमर्थता वाले बच्चों के विद्यालय में ही भेजा जाना चाहिए, नियमित विद्यालय में नहीं
(3) नियमित विद्यालय में बहुत अच्छा कर सकता है यदि उसे उपयुक्त सुविधा और साधन उपलब्ध कराए जाएँ
(4) नियमित विद्यालय में अपने सहपाठियों के समान कभी प्रदर्शन नहीं कर सकेगा

Q9. निम्नलिखित में से कौन-सी विशेषता प्रतिभावान शिक्षार्थी की है?
(1) यदि कक्षा की गतिविधियाँ अधिक चुनौतीपूर्ण नहीं होती है, तो वह कम प्रेरित अनुभव करता है और ऊब जाता है
(2) वह आक्रामक और कुंठित हो जाता है
(3) वह बहुत ही तुनकमिज़ाज होता है
(4) यह रस्मी व्यवहार करता है जैसे-हाथ थपथपाना, डोलना आदि।

Q10. एक शिक्षिका अपनी प्राथमिक कक्षा में प्रभावी आधिगम को बढ़ा सकती है
(1) हिल और अभ्यास के द्वारा
(2) अधिगम में छोटी-छोटी उपलब्धियों के लिए पुरस्कार देकर
(3) अपने विद्यार्थियों में प्रतियोगिता को प्रोत्साहन देकर
(4) विषयवस्तु को विद्यार्थियों के जीवन के साथ संबंधित

Q11. बच्चों के बारे में निम्नलिखित कथनों में से कौनसे सही है?
(1) बच्चे जानकारी के निष्क्रिय प्राप्त कर्ता है।
(2) बच्चे समस्या समाधानकर्ता है।
(3) बच्चे वैज्ञानिक शोधकर्ता है।
(4) बच्चे पर्यावरण के सक्रिय अन्येषक है।
(1) 2, 3 और 1
(2) 1, 2 और 1
(3) 1,2,3 और 1
(4) 1, 2 और 3

Q12. विद्यार्थियों में संप्रत्ययात्मक विकास को प्रोत्साहन देने के लिए निम्नलिखित में से कौन-सी विधि सबसे प्रभावी है?
(1) याद करने के लिए कहकर विद्यार्थियों के गलत विचारों को सही विचारों में बदलना
(2) पुराने प्रत्ययों से किसी संदर्भ के बिना नए प्रत्ययों को अपने आप समझा जाना चाहिए
(3) विद्यार्थियों को बहुत-से उदाहरण देना और उन्हें तर्कशक्ति का उपयोग करने के लिए प्रोत्साहित करना
(4) जाब तक विद्यार्थियों में वांछित संप्रत्ययात्मक परिवर्तन न हो जाए, तब तक दंड का उपयोग करना

Q13. प्राथमिक विद्यालय के बच्चे उस वातावरण में सबसे प्रभावी ढंग से सीखेंगे
(1) जहाँ शिक्षक एकाधिकारवादी है और स्पष्ट आदेश देता है कि क्या किया जाना चाहिए
(2) जहाँ उनकी संवेगात्मक आवश्यकताओं की पूर्ति होती है और वे अनुभव करते हैं कि वे महत्त्वपूर्ण हैं।
(3) जहाँ मूलरूप से पढ़ने, लिखने और गणिात को संज्ञानात्मक कुशलताओं पर ही ध्यान का केन्द्र होता है और बल दिया जाता है
(4) जहाँ शिक्षक सारे अधिगमों में आगे होता है और विद्यार्थियों से निष्क्रिय रहने की अपेक्षा करता है।

Q14. एक बच्चा खिड़की के सामने से एक कौवे को उड़ता हुआ देखता है और कहता है, “एक पक्षी।” इससे बच्चे के विचार के बारे में क्या पता चलता है?
(1) बच्चे को स्मृतियाँ पहले से भंडारित होती है
(2) बच्चे में ‘पक्षी’ का प्रत्यय विकसित हो चुका है
(3) बच्चे ने अपने अनुभव बताने के लिए भाषा के कुछ उपकरणों का विकास कर लिया है।
(1) B और C
(2) A और B
(3) A, B और C
(4) केवल B

Q15. कोई शिक्षिका अपने विद्यार्थियों को क्या कहे कि उन्हें भीतरी प्रेरणा के साथ कार्य करने के लिए प्रोत्साहित कर सकें?
(1) “तुम उसके जैसे क्यों नहीं हो सकते? देखो, उसने इसे एकदम ठीक कर दिया।”
(2) “चलो, इसे उसके करने से पहले समाप्त कर लो।”
(3) “काम जल्दी पूरा करो तो तुम्हें एक टा फी मिलेगी।”
(4) “इसे करने की कोशिश करो, तुम सीख जाओगे।”

Leave a Reply

Your email address will not be published.

error: Content is protected !!