UPTET 2016 – Paper – I (Child Development and Pedagogy) Answer Key

74 mins read

परीक्षा (Exam) – UPTET (UttarPradesh Teacher Eligibility Test) Paper I (Classes I to V)
भाग (Part) – Part – 1 – बाल विकास और शिक्षाशास्त्र (Child Development and Pedagogy)
परीक्षा आयोजक (Organized) –  UPBEB

कुल प्रश्न (Number of Question) – 30
परीक्षा तिथि (Exam Date) – 2016


Q1. एक शिक्षिका अपनी कक्षा में विविधता को संबोधित कर सकती है-
A. मित्रताओं को स्वीकार करके और उसे महत्व देकर
B. बच्चों की सामाजिक-सांस्कृतिक पृष्ठभूमि का शिक्षा-शाधीय संसाधन के रूप में प्रयोग करके
C. विभित्र अधिगम शैलियों को समायोजित करके
D. मानक निर्देश देकर और निष्पादन हेतु सर्वमान्य मानदण्ड निर्धारित करके
नीचे दिए गए कूट के आधार पर सही उत्तर चुनिए।
(1) A, B, C और D
(2) A, B और C
(3) A, B और D
(4) B, C और D

Q2. कोई शिक्षिका अपनी कक्षा में फर्नीचर की तीखी घार वाले किनारों को कई से ढंका रखने को कहती है
और ‘छुओ तथा अनुभव करों वाले सूचना-पट्टों का उपयोग करने को कहती है। वह किस वर्ग के विशेष शिक्षार्थियों की आवश्यकता पूर्ति करने का प्रयास कर रही है?
(1) दृष्टि विकलांग शिक्षार्थी
(2) सामाजिक रूप से वंचित शिक्षार्थी
(3) श्रवण विकलांग शिक्षार्थी
(4) सीख न सकने वाले शिक्षार्थी

Q3. प्रतिभाशाली बच्चों के लिए सबसे अच्छे शैक्षिक कार्यक्रम वे होते हैं जो
(1) उन्हें अधिगम के न्यूनतम मानकों तक काम करने को प्रेरित करने के लिए उपहारों और पुरस्कारों का उपयोग करते
(2) उनके आक्रामक व्यवहार को नियंत्रित करते हैं
(3) प्रत्यास्मरण के द्वारा ज्ञान की प्रवीणता पर बल देते हैं
(4) उनके चिंतन को प्रेरित कर उन्हें विविध विचारों में व्यरत रहने के अवसर देते हैं

Q4. विद्यालयों में विद्यार्थियों की असफलता के बारे में निम्नलिखित में से कौन-से कथन सही है?
A. विशेष जातियों और समुदायों से संबंधित विद्यार्थी असफल होते हैं क्योंकि उनमें योग्यता नहीं होती।
B. विद्यार्थी विद्यालयों में असफल होते हैं क्योंकि उन्हें अधिगम के लिए उपयुक्त पुरस्कार नहीं दिए जाते।
C. विद्यार्थी असफल होते हैं क्योंकि शिक्षण उस तरीके से नहीं किया जाता जो उनके लिए सार्थक हो।
D. विद्यार्थी असफल होते हैं क्योंकि विद्यालय व्यवस्था प्रत्येक विद्यार्थी की आवश्यकताओं और अभिरुचियों का ध्यान नहीं रखती।
(1) C और D
(2) B और D
(3) A और B
(4) B और C

Q5. दो विद्यार्थी एक ही अवतरण को पढ़ते हैं, फिर भी इसके बिलकुल भिन्न अर्थ लगाते हैं। उनके बारे में निम्नलिखित में से क्या सत्य है?
(1) संभव नहीं है और विद्यार्थियों को उसे दुबारा पड़ना चाहिए।
(2) संभव नहीं है, क्योंकि अधिगम का आशय अर्थ लगाना नहीं है।
(3) संभव है, क्योंकि शिक्षक ने अवतरण को समझाया नहीं
(4) संभव है, क्योंकि व्यक्ति के अधिगम को विविध कारण विभित्र विधियों से प्रभावित करते हैं।

Q6. राष्ट्रीय पाठचर्चा की रूपरेखा, 2005 के अनुसार अधिगम अपने स्वभाव में ____ और _____ है।
(1) सक्रिय: सामाजिक
(2) सक्रिय; सरल
(3) निष्क्रिय; सरल
(4) निष्क्रिय; सामाजिक

Q7. विद्यार्थियों को स्वतंत्र रूप से चिंतन करने तथा प्रभावी शिक्षार्थी बनने में सक्षम बनाने हेतु शिक्षक के लिए यह महत्त्वपूर्ण है
(1) विद्यार्थियों के द्वारा प्राप्त की गई प्रत्येक सफलता के लिए उन्हें पुरस्कार देना
(2) एक संघाटित तरीके से जानकारी को प्रस्तुत करना ताकि पुनःस्मरण करने में सरल हो
(3) विद्यार्थियों को सिखाना कि किस प्रकार से अपने आधगम का अनुवीक्षण करें
(4) छोटी-छोटी इकाइयों या खंडों में जानकारी प्रदान करना

Q8. यदि कोई शिक्षिका चाहे कि उसके विद्यार्थी समस्यासमाधन कौशल प्राप्त कर ले, तो विद्यार्थियों को ऐसे क्रिया-कलापों में लगाना चाहिए जिनमें हो –
(1) बहुविकल्पी प्रश्नों वाले स्तरीकृत कार्यपत्रक
(2) पूछना, तर्क करना और निर्णय लेना
(3) प्रत्यास्मरण, रटना और समझना
(4) ड्रिल और अभ्यास

Q9. कक्षा तक पहुंचने वाली बच्चों को भोली अवधारणाओं को जानना
(1) शिक्षक के हौसले को पस्त कर देता है क्योंकि इससे उसका कार्यभार बढ़ता है
(2) शिक्षक की योजना और शिक्षण में रुकावट बनता है
(3) शिक्षक के किसी उद्देश्य की पूर्ति नहीं करता
(4) शिक्षक के लिए अपने शिक्षण को अधिक सार्थक बनाने की योजना बनाने में सहायक होता है।

Q10. निम्नलिखित में से कौन-से तत्त्व अधिगम को प्रभावित करते हैं?
A. शिक्षार्थी की परिपक्वता
B. शिक्षार्थी का उत्प्रेरण
C. शिक्षण युक्तियाँ
D. शिक्षार्थी व्या शारीरिक और संवेगात्मक स्वास्थ्य
(1) A, B, C और D
(2) A, B और C
(3) A और B
(4) A और C

Q11. सार्थक अधिगम है
(1) उद्दीपक तथा उत्तर के बीच युग्मन तथा साहचर्य
(2) निजी अनुभवों से ज्ञान की संरचनाओं का सक्रिय निर्माण
(3) वयस्कों और अधिक सक्षम साथियों का अनुकरण
(4) दी गई सूचना का निष्क्रिय ग्रहण

Q12. विद्यार्थियों के प्रभावशाली अधिगम के लिए निम्नलिखित में से कौन-सा, शिक्षक के प्रारंभिक कार्यों में से एक नहीं है?
(1) विद्यार्थियों को उपदेशात्मक विधि से सूचना प्रदान करना
(2) बच्चों को यह सिखाना कि वे अपने अधिगम प्रयासों को कैसे देख और सुधार सकते हैं।
(3) विद्यार्थियों की उन धारणाओं को जानना जिन्हें लेकर वे कक्षा में आते हैं
(4) विद्यार्थियों से उच्चतर स्तर के प्रश्नों के उत्तर की अपेक्षा करना

Q13. विकास के सिद्धांतों के बारे में निम्नलिखित में से कौन-सा कथन गलत है?
(1) विकास परिपक्वन और अधिगम पर आधारित होता है।
(2) विकास एक परिमाणात्मक प्रक्रिया है जिसका ठीक-ठाक मापन हो सकता है।
(3) विकास वंशानुगतता और वातावरण के बीच सतत अन्योन्यक्रिया से होता है।
(4) प्रत्येक बच्चा विकास के चरणों से गुजरता है फिर भी बच्चों में वैयक्तिक भिन्नताएँ बहुत होती है।

Q14. _____ तथा की विशिष्ट अन्योन्यक्रिया का परिणाम विकास के विविध मार्गों और निष्कर्षों के रूप में हो सकता है।
(1) चुनौतियाँ सीमाएँ
(2) खोज; पोषण
(3) वंशानुक्रमः पर्यावरण
(4) स्थिरता; परिवर्तन

Q15. विद्यालय और समाजीकरण के बारे में निम्मालिखित में से क्या सत्य है?
(1) विद्यालय समाजीकरण का एक महत्त्वपूर्ण कारक है।
(2) विद्यालय समाजीकरण का पहला मुख्य कारक है।
(3) समाजीकरण में विद्यालय की कोई भूमिका नहीं होती।
(4) समाजीकरण में विद्यालय की बहुत थोड़ी भूमिका होती

Leave a Reply

Your email address will not be published.

error: Content is protected !!