UPTET 2014 – Paper – I (Child Development and Pedagogy) Answer Key

60 mins read

परीक्षा (Exam) – UPTET (UttarPradesh Teacher Eligibility Test) Paper I (Classes I to V)
भाग (Part) – Part – 1 – बाल विकास और शिक्षाशास्त्र (Child Development and Pedagogy)
परीक्षा आयोजक (Organized) –  UPBEB

कुल प्रश्न (Number of Question) – 30
परीक्षा तिथि (Exam Date) – 2014


Q1. पियाजे के अनुसार, विकास को प्रभावित करने में निम्नलिखित कारकों में से किसकी भूमिका महत्वपूर्ण होती है?
(1) पुनर्वलन
(2) भाषा
(3) भौतिक विश्व के साथ अनुभव
(4) अनुकरण

Q2. पूर्व-संक्रियात्मक काल में आने वाली संज्ञानात्मक योग्यता है
(1) अभिकल्पनात्मक निष्कर्ष चिंतन
(2) अमूर्त चिंतन की योग्यता
(3) लक्ष्य-उद्दिष्ट व्यवहार की योग्यता
(4) दूसरे के दृष्टिकोण को समझने की योग्यता

Q3. निम्नलिखित में से किस एक जोड़े का मिलान ठीक हुआ है?
(1) सामाजिक संविदा अभिविन्यास-किसी कार्य के भौतिक परिणाम निर्धारित करते हैं कि वह अच्छा है या बुरा
(2) दंड देना और आज्ञापालन अभिविन्यास-नियम तय नहीं है, किंतु समाज के हित में बदले जा सकते हैं
(3) अच्छा लड़का व अच्छी लड़की अभिविन्यास-अच्छा बनकर कोई स्वीकृति प्राप्त करता है।
(4) नियम और आदेश अभिविन्यास-मानवाधिकारों के मूल्य के आधार पर नैतिक सिद्धान्त स्वयं चुने जाते हैं

Q4. वाइगोत्स्की की संस्तुति के अनुसार, बच्चों की ‘व्यक्तिगत वाक् की संकल्पना
(1) प्रदर्शित करती है कि बच्चे बुद्ध होते हैं इसलिए उन्हें पौड़ों के निर्देशन की आवश्यकता होती है
(2) स्पष्ट करती है कि बच्चे अहं-केंद्रित होते हैं
(3) प्रदर्शित करती है कि बच्चे अपने-आप से प्यार करते हैं
(4) स्पष्ट करती है कि बच्चे अपने ही कार्यों के निर्देशन के लिए भाषा का उपयोग करते हैं।

Q5. वाइगोत्स्की किया जा सकता के अनुसार, सीखने को पृथक् नहीं
(1) अवबोधन और अवधानात्मक प्रक्रियाओं से
(2) उसके सामाजिक संदर्भ से
(3) पुनर्बलन से
(4) व्यवहार में मापने योग्य परिवर्तन से

Q6. प्रगतिशील शिक्षा में अपरिहार्य है कि कक्षा-कक्ष
(1) शिक्षक के पूर्ण नियंत्रण में होता है जिसमें यह अधिगायकतावादी होता है
(2) लोकतांत्रिक होता है और समझने के लिए बच्चों को पर्याप्त स्थान दिया गया होता है
(3) सत्तावादी होता है, जहाँ शिक्षक आदेश देता है और शिक्षार्थी चुपचाप अनुसरण करते हैं
(4) सबके लिए मुक्त होता है जिसमें शिक्षक अनुपस्थित होता है

Q7. निम्नलिखित में से कौन-सा एक उदाहरण भाषिक बुद्धि वाले व्यक्ति को दर्शाता है
(1) तर्क की दीर्घ श्रृंखलाओं को संभाल सकने की योग्यता
(2) शब्दों के अर्थ और क्रम तथा भाषा के विविध प्रयोगों के प्रति संवेदशनीलता
(3) स्वर,राग और सुर के प्रति संवेदनशीलता
(4) ध्यान देने और दूसरे से अंतर कर सकने की योग्यता

Q8. भाषा
(1) विचार-प्रक्रिया का निर्धारण नहीं कर सकती
(2) विचार-प्रक्रिया को प्रभावित नहीं करती
(3) हमारी विचार-प्रक्रिया को पूरी तरह से नियंत्रित करती है
(4) हमारी विचार-प्रक्रिया को प्रभावित करती है

Q9. कक्षा VIII की एक पाठ्य-पुस्तक में इस प्रकार के चित्र हैं- शिक्षिका एवं घरेलू काम करने वाली के रूप में महिला, जबकि, डा क्र एवं पाइलट के रूप में पुरुष। इस प्रकार के चित्रण से बाढ़ सकती/सकता है।
(1) लिंग सशक्तीकरण
(2) लिंग रूडिबद्धता
(3) लिंग भूमिका निर्वाह खेल
(4) लिंग स्थिरता

Q10. शिक्षार्थियों में बहुत विभिन्नताएँ होती है। इनमें से किसके कितने लिए शिक्षक को संवेदनशील होने की आवश्यकता है?
(I) संज्ञानात्मक क्षमताओं और सीखने के स्तरों पर आधारित भिन्नताएँ
(II) भाषा, जाति, लिंग, धर्म, समुदाय की विविधता पर आधारित भिन्नताएँ
नीचे दिए गए कूट के आधार पर सही उत्तर चुनिए।
(1) न तो 1 औन न ही II
(2) केवल I
(3) केवल II
(4) I और II दोनों

Q.11 केवल कागज-पॅसिल जाँचो द्वारा आंकलन
(1) सकल आकलन को बढ़ावा देता है
(2) आकलन को सीमित कर देता है
(3) समग्र मूल्यांकन को सुविधा प्रदान करता है
(4) निरंतर मूल्यांकन को सुविधा प्रदान करता है

Q12. माध्यमिक विद्यालय की कक्षा में शिक्षिका के पास एक ‘बधिर बच्चा है। उसके लिए यह महत्वपूर्ण है कि
(1) विद्यालय सलाहकार (काउंसलर) से कहे कि वे बच्चे के अभिभावकों से बात करे तथा उन्हें अपने बच्चे को विद्यालय से हटाने के लिए कहे
(2) यह बच्चे को उस स्थान पर बैठाए जहाँ से यह शिक्षिका के होठ तथा चेहरे के भाव साफ तौर पर देख सके
(3) उसके प्रति संकेत करे जिसे वह बच्चा बार-बार भी नहीं कर पा रहा
(4) बच्चे को डाँट-फटकार कर उसे अलग स्थान पर बैठाए ताकि वह बधिर केन्द्र में प्रवेश ले ले

Q13. एक शिक्षक समाज के ‘वंचित वर्ग के बच्चों की आवश्यकताओं को प्रभावपूर्ण तरीके से पूरा कर सकता
(1) कक्षा-कक्ष के प्रत्येक बच्चे की आवश्यकतानुसार अपना शिक्षण-कौशल अपनाकर
(2) उनकी पृष्ठभूमि की अपेक्षा करके तथा उन्हें विद्यालय में कार्य करने के लिए कहकर
(3) उन्हें कक्षा-कक्ष में अलग स्थान पर बैठाकर, ताकि वे अन्य बच्चों से मेल-जोल न करे
(4) अन्य बच्चों को बचित पृष्ठभूमि वाले बच्चों के प्रति सहानुभूतिपूर्ण व्यवहार करने के लिए कहकर

Q14. अधिगम-नियोग्यता वाले बच्चे
(1) बहुत सक्रिय होते हैं, लेकिन उनकी बुद्धि-लब्धि कम होती है
(2) बहुत बुद्धिमान तथा परिपक्व होते हैं
(3) कुछ भी नहीं सीख सकते
(4) अधिगम के कुछ पक्षों से संघर्ष करते हैं

Q15. शिक्षक बच्चों को सृजनात्मक विचारों के लिए प्रोत्साहित कर सकता है
(1) उन्हें बहु-विकल्पी प्रश्न देकर
(2) उन्हें बहु-विकल्पी प्रश्न देकर
(3) उन्हें उत्तर कंठस्थ करने के लिए कहकर
(4) उनसे प्रत्यास्मरण-आधारित प्रश्न पूछकर

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Previous Story

महात्मा गांधी पुण्यतिथि

Next Story

UPTET 2014 – Paper – I (English Language) Answer Key

error: Content is protected !!