गन्ना (Sugarcane)

7 mins read
  • वानस्पतिक नाम – सेकरुम ऑफ़िसिनारम (Saccharum officinarum)
  • कुल – घास कुल (ग्रेमिनी)
  • जलवायु – उष्णकटिबंधीय (Tropical)
  • तापमान – 21 -27°C
  • वर्षा – 100 – 180 सेंटीमीटर

गन्ना (Sugarcane) एक ग्रेमिनी कुल का पौधा है, जो कृषि पर आधारित उद्योगों में दूसरा सबसे प्रमुख उद्योग है।

20 अगस्त 1998 को भारत सरकार द्वारा चीनी उद्योग (Sugar Industry) को लाइसेंस मुक्त करने की घोषणा की थी तथा वर्ष 2002-03 के मध्य में चीनी उद्योग (Sugar Industry) को पूर्णतः लाइसेंस मुक्त कर दिया गया था।

वर्ष 1936 में राष्ट्रीय शर्करा संस्थान (National Sugar Institute) की स्थापना कल्याणपुर (कानपुर, उत्तर प्रदेश) में की गयी थी, जिसकी उद्देश्य चीनी प्रौद्योगिकी में अनुसंधान के लिए किया गया था।

वर्ष 1903 में उत्तर प्रदेश के प्रतापपुर (देवरिया जिले) में भारत की प्रथम चीनी मिल की  थी।

धारणीय गन्ना उपक्रमण (Sustainable Sugarcane Initiative) 

  • गन्ना उत्पादन की इस पद्यति की शुरुआत इक्रीसैट एवं WWF (ICRISAT & WWF) के संयुक्त प्रयास से संभव हुई।
  • यह गन्ना उत्पादन की एक पद्यति है, जिसकी शुरुआत वर्ष 2009 गन्ने की खेती में सुधार हेतु की गयी थी। इसे सतत गन्ना पहल के नाम से भी जाना जाता है।
  • यह गन्ना उत्पादन की एक उन्नत तकनीक है, जिसमें कृषि की पारंपरिक पद्यति की तुलना में बीजों की लागत बहुत कम होती है, तथा ड्रिप सिंचाई (drip irrigation) का उपयोग करके गन्ने के उत्पादन में वृद्धि की जा सकती है।
  • इस पद्यति में कार्बनिक (Organic)अकार्बनिक (Inorganic) दोनों प्रकार के रसायनों का प्रयोग किया जाता है।

Leave a Reply

Your email address will not be published.

error: Content is protected !!