बाजरा (Millet)

5 mins read

बाजरा (Millet) भारत की एक प्रमुख फसल है, जिसे मोटे अनाज के अंतर्गत वर्गीकृत किया गया है। बाजरा (Millet) का उपयोग खाद्यान्न तथा चारे के रूप में किया जाता है।

इसे कम वर्षा वाले क्षेत्रों व सूखा प्रभावित क्षेत्रों के में भी आसानी से उगाया जा सकता है। इसलिए बाजरा (Millet) को उन क्षेत्रों में उगाया जाता है, जहां गेहूँमक्का का उत्पादन काफी कम मात्रा में होता है।

बाजरा (Millet) मूल रूप से अफ्रीका महाद्वीप की फसल है, जिसका बाद में भारतीय महाद्वीप व एशिया में प्रवेश हुआ। भारत में लगभग 2000 ई.पू. बाजरे (Millet) की कृषि के प्रमाण प्राप्त होते है। भारत में बाजरे का सबसे अधिक उत्पादन राजस्थान में होता है।

क्षेत्रफल और उत्पादन की दृष्टि से बाजरा (Millet) भारत की तीसरी सबसे प्रमुख खाद्यान्न फसल है। इसके बाद चौथेपांचवे नंबर पर क्रमश: मक्का (Maize) व ज्वार (Sorghum) का स्थान आता है। चावल (Rice) भारत की सबसे प्रमुख खाद्यान्न फसल है तथा इसके बाद दूसरे क्रम में गेहूँ (Wheat) का स्थान आता है।

बाजरा की (Millet) संकुल किस्में

ICMV – 22
ICTP – 8203
Raj – 171
Pusa Composite – 383

बाजरा की संकर किस्में (Hybrid varieties)

86 M – 52
GHB – 526
PB – 180
GHB – 558

Leave a Reply

Your email address will not be published.

error: Content is protected !!