भारतीय राज्यों के प्रमुख लोकनृत्य

भारतीय राज्यों के प्रमुख लोकनृत्य (Major folk dance of Indian states)

3 mins read

भारतीय लोक और जनजातीय नृत्य सरल नृत्य हैं, और आपस में आनंद और खुशी व्यक्त करने के लिए किए जाते हैं। लोक और जनजातीय नृत्यों को ऋतुओं के आगमन, बच्चे के जन्म, शादी और त्योहारों के अवसर पर  किया जाता है। पुरुष और महिलाएं कुछ नृत्य विशेष रूप से  अलग-अलग किये जाते हैं, जबकि कुछ  अवसरो में एक साथ नृत्य करते हैं। 

भारत में 29 राज्य हैं और प्रत्येक का अपना शास्त्रीय नृत्य रूप और लोक नृत्य हैं। विभिन्न राज्यों के लोक नृत्य आमतौर पर लगभग हर प्रतियोगी परीक्षा जैसे SSC, Railway आदि में पूछे जाते हैं।

भारतीय राज्यों के प्रमुख लोकनृत्य (Major folk dance of Indian states)

राज्य (State)लोकनृत्य और जनजातीय नृत्य
आंध्र प्रदेशबुर्रा कथा, वीरनाटयम, बुटा, बतक्रम्मा, तपिता गुल्लू, धीम्सा, कोलाट्टम ।
असम ओजापाली, बिहू, झुमुरा, भोरतल, नटपूजा, कलिगोपाल, होब्जानाई।
अरुणाचल प्रदेशसिंह और मयूर नृत्य, छेलो, मुखौटा नृत्य, पोंंग नृत्य, रिखमपाड़ा नृत्य, बुईआ नृत्य, खांपटी नृत्य, बारडो छम, वांचो डांस।
बिहारबिदेसिया नृत्य, घुमकड़िया कीर्तनियां, चेकवा, छऊ, जटजटनि, जदूर, जातरा, बरबो-बरवाहन, बैमा, माघा, मुझरी, सोहराई।
छत्तीसगढ़पंडवानी नृत्य, राउत-नृत्य, सुआ नृत्य, पंथी, कर्मा नृत्य।
गुजरातगरबा, झकोलिया, टिप्पनी, डांडियारास, दीपक नृत्य, पणिहारी नृत्य, भबई, रासलीला, लास्या, हूडो, डांगी नृत्य।
गोआखोल, डालो नृत्य, झागोर, दिवाली नाच, घोडे मोदनी, गौफ, मंडो नृत्य।
हरियाणारास लीला, धमाल, मंजिरा, घूमर, धमाल, फाग नृत्य, गुग्गा, जागोर।
हिमाचल प्रदेशझोरा, कुल्लू नाटी, झाली, छारही, धामन, महासू, घुरेगी नृत्य
जम्मू और कश्मीररऊफ, हीकत, मंदजात, कूद डांडी नाच, दमाली, बाचा नगमा, हफीजा नृत्य, वूगी-नाचू नृत्य।
कर्नाटकयक्षगान, हुट्टारी, सुग्गी, कुनीथा, करगा, लाम्बी, सिम्हा नृत्य, गुल्लू कुनिथा, वीरगासे नृत्य।
केरलथेयम, तिरुवथिरकली, चकीर कुथू कुडियायट्टम, ओटामुथुल्लाल, मोहिनीअट्टम।
महाराष्ट्रलावणी नृत्य, नकाटा, कोली, लेजिम, गाफा, दहीकला दसावतार या बोहादा, दिंडी और काला।
ओडीशाओडिसि (शास्त्रीय), सवारी, घूमरा, पैंरास मुनारी, छाउ, चैती घोड़ा, डंडा नृत्य।
पश्चिम बंगालकाठी, गंभीरा, ढाली, जतरा, बाउल, मरासिया, महाल, कीरतन।
पंजाबभांगड़ा, गिद्दा, दफ्फ, धामन, भांड, नकूला।
राजस्थानघूमर, चाकरी, गणगौर, झूलन लीला, झूमा, सुईसिनी, घपाल, कालबेलिया।
तमिलनाडुभरतनाट्यम, कुमी, कोलट्टम, मयिल अट्टम, कवाडी,बोम्मलत्तम (कठपुतली नाच)।
उत्तर प्रदेशनौटंकी, रासलीला, कजरी, झोरा, चाप्पेली, जैता, ख्याल नृत्य, स्वंगा नृत्य।
उत्तराखंडथडिया नृत्य, पौणा नृत्य, हारुल नृत्य, बुड़ियात लोकनृत्य, पण्डवार्त नृत्य, मंडाण नृत्य, लंगविर नृत्य, चौफला नृत्य, तांदी नृत्य, झुमैलो नृत्य, चांचरी नृत्य, छोपती, रणभुत नृत्य, जागर नृत्य, झोड़ा नृत्य, बैर नृत्य, भागनौली नृत्य, बगवान नृत्य, छोलिया नृत्य।
मध्यप्रदेशजवारा, मटकी, अडा, खाड़ा नाच, फूलपति, ग्रिदा नृत्य, सालेलार्की, सेलाभडोनी, मंच।
मणिपुरडोल चोलम, थांग टा, लाई हाराओबा, पुंग चोलोम, खांबा थाईबी, नूपा नृत्य, रासलीला, खूबक इशेली, लोहू शाह।
मेघालयनॉन्गरेम, लाहो।
मिजोरमछेरव नृत्य, खुल्लम, चैलम, स्वलाकिन, च्वांगलाईज्वान, जंगतालम, पर लाम, सरलामकई/ सोलाकिया, लंगलम।
नागालैण्डरंगमा, बांस नृत्य, जीलैंग, सूईरोलियंस, गीथिंगलिम, तिमांगनेतिन, हेतलईयूली।
त्रिपुराहोजागिरी।
सिक्किमडेनजोंग नेनहा, सिकमारी, सिंघई चाम या स्नो लायन डांस, याक छाम, ताशी यांगकू नृत्य, खूखूरी नाच, चुटके नाच, मारूनी नाच।
लक्षद्वीपपरीचाकली, लावा, कोलकाई।
पुडुचेरीगोंडी नृत्य (आदिवासी नृत्य)।

Leave a Reply

Your email address will not be published.

error: Content is protected !!