आनुवंशिकी की महत्वपूर्ण शब्दावलियां (Important Glossaries of Genetics)

9 mins read

एलील (Allele) वे जीन जो लक्षण को नियंत्रित करते हैं, एलील कहलाते हैं। ये जोड़े में होते हैं एवं प्रत्येक जीन एक-दूसरे का एलील कहलाता है। दोनों जीन मिलकर युग्म विकल्पी (Alleles) का निर्माण करते हैं।

समयुग्मज (Homozygous)  किसी जीन या गुण को समान एलीलि कोड करने वाले दो के जोड़े।

विषमयुग्मज (Heterozygous)  किसी असमान एलील जोड़े।

समलक्षणी (Phenotype)  जीवों के जो लक्षण प्रत्यक्ष रूप से दिखायी पड़ते हैं, उसे समलक्षणी कहते हैं।

समजीनी (Genotype)  किसी जीव या पादप की जीन संरचना उस जीव/पादप की समजीनी कहलाती है।

जीन विनिमय (Crossing Over)  अर्द्धसूत्री विभाजन की सिनेप्सिस क्रिया के दौरान समजाती गुणसूत्रों के नान-सिस्टर क्रोमोटिड में संगत आनुवंशिक अण्डों का पारस्परिक विनिमय होता है जिससे संलग्न जीनों के नये संयोजन बनते हैं।

ऑटोसोम्स (Auto Somes)  ये गुणसूत्र की कायिक कोशिकाओं में पाये जाते हैं।

जीन (Gene)  डीएनए का वह छोटा खण्ड जिनमें आनुवंशिक कूट निहीत होता है।

जीनोम (Genome)  गुणसूत्र में पाये जाने वाले आनुवंशिक पदार्थ को जीनोम कहते हैं।

बैक क्रॉस (Back Cross)  यदि प्रथम पीढ़ी के जीनोटाइप से पितृपीढ़ी के जीनोटाइप में शुद्ध या संकर प्रकार का संकरण कराया जाता है, तो यह बैक क्रॉस कहलाता है।

सुजननिकी (Eugenic)  आनुवंशिकी की वह शाखा जिसके अन्तर्गत मानव जाति को आनुवंशिक नियमों के द्वारा सुधारने का अध्ययन किया जाता है, उसे सुजननिकी कहते हैं।

गुणसूत्र प्रारूप (Karyotype)  पादप एवं जंतुओं में गुणसूत्र निश्चित लक्षण परिलक्षित करते हैं जैसे गुणसूत्र संख्या, आकार, परिमाण, भुजा की लंबाई, पिण्ड की स्थिति आदि। ऐसे लक्षण जिनके द्वारा अलग-अलग गुणसूत्रों को पहचाना जा सकता है, गुणसूत्र प्रारूप कहलाता है।

Leave a Reply

Your email address will not be published.

error: Content is protected !!