उत्तराखंड से संबंधित प्रमुख तथ्य

उत्तराखंड से संबंधित प्रमुख तथ्य (Part 28)

9 mins read

गोचर (चमोली) में उत्तराखंड बोली संस्थान की स्थापना की गयी है।

जाड़ जनजाति मुख्य रूप से उत्तरकाशी जिले के जादुंग गांव में निवास करती है।

सुसवा, सौंग नदी की एक सहायक नदी है।

उत्तराखंड के पौड़ी जिले में कालागढ़ नामक स्थान पर वन जन्तु रक्षक प्रशिक्षण केंद्र की स्थापना की गयी।

उत्तराखंड के काशीपुर नगर में राज्य का सूती वस्त्र मिल स्थापित की गई है।

नैनीताल जिले के मुक्तेश्वर में भारतीय पशु चिकित्सा अनुसंधान संस्थान (Indian Veterinary Research Institute – IVRI) की स्थापना की गयी है।

उत्तराखंड विकास बोर्ड केंद्र देहरादून जिले के ऋषिकेश में स्थित है।

UREDA (Uttarakhand Renewable Energy Development Agency) का मुख्यालय उत्तराखंड के अल्मोड़ा जिले में स्थित है।

मधुमिता बिष्ट, को बेडमिंटन क्वीन (Badminton Queen) के नाम से जाना जाता है, जो मूल रूप से उत्तराखंड के पौड़ी जिले की निवासी है।

कालिदास द्वारा रचित ग्रंथ मेघदूत में कनखल (हरिद्वार) का वर्णन किया गया है।

राज्य का कब्रिस्तान नामक स्थान हरिद्वार में स्थित है।

वर्ष 1975 में उत्तर प्रदेश सरकार द्वारा मोनाल पक्षी और ब्रह्मकमल के ऊपर डाक टिकट जारी किया गया था।

मानसखंड (कुमाऊँ) के बागेश्वर में जिस स्थान पर सरयू व गोमती नदी का संगम होता है, उस स्थान को तीर्थराज प्रयाग के नाम से जाना जाता है।

भद्रकाली शक्ति पीठ, बागेश्वर में स्थित है।

वर्ष 1936 में नारायण स्वामी द्वारा उत्तराखंड के पिथौरागढ़ जिले में नारायण आश्रम की स्थापना की गई थी।

पिथौरागढ़ जिले में स्थित जान्ह्वी नौला को गुप्त गंगा के नाम से भी जाना जाता है।

धारचूला के निवासियों के लिए छिपला केदार का महत्व हरिद्वार के सामान है।

गरूड़ जलप्रपात, उत्तराखंड के पिथौरागढ़ जिले में स्थित है।

तिलोथ पावर प्लान्ट (Tiloth Power Plant) उत्तराखंड जिले के मनेरी (उत्तरकाशी) में स्थित है।

Leave a Reply

Your email address will not be published.

error: Content is protected !!