CTET June 2011 – Paper – I (Hindi Language) Answer Key

52 mins read

परीक्षा (Exam) – CTET Paper I Primary Level (Class I to V)
भाग (Part) –  Part – IV (Hindi Language)
परीक्षा आयोजक (Organized) – CBSE
कुल प्रश्न (Number of Question) – 30
परीक्षा तिथि (Exam Date) –  June 2011


निर्देश : निम्नलिखित प्रश्नों के उत्तर देने के लिए सबसे उचित विकल्प चुनिए

91. उपचारात्मक शिक्षण की सफलता निर्भर करती है
A. भाषिक नियमों के ज्ञान पर
B. समय व अवधि पर
C. समस्याओं के कारणों की सही पहचान पर
D. उपचारात्मक शिक्षण की सामग्री पर

92. भाषा-शिक्षण में पाठ्य-पुस्तक
A एकमात्र संसाधन है
B. साध्य है
C. साधन है
D. अनावश्यक है

93. हिन्दी की कक्षा में प्रायः हिन्दीतर-भाषी बच्चे हिन्दी सीखने में अनेक कठिनाइयों का सामना करते हैं, क्योंकि
A. वे मन लगाकर हिन्दी नहीं सीखते।
B. हिन्दी सीखने के प्रति उनमें अरुचि होती है।
C. हिन्दी बहुत कठिन भाषा है।
D. प्रायः हिन्दी और उनकी मातृभाषा की संरचना में अंतर होता है।

94. कहानी सुनाने से
A. बच्चे प्रसन्न होते हैं।
B. बच्चे कक्षा में एकाग्रचित होकर शांत बैठते हैं।
C. बच्चे अनुशासित रहते हैं।
D. बच्चों की कल्पना-शक्ति व चिंतन-शक्ति का विकास होता है।

95. बच्चों के ‘लेखन’ कौशल का मूल्यांकन करने के लिए कौन-सी विधि बेहतर हो सकती है?
A. अपने अनुभवों को लिखना
B. श्रुतलेख
C. पाठाधारित प्रश्नों के उत्तर लिखना
D. सुन्दर लेख का अभ्यास

96. ‘बोलना’ कौशल में महत्वपूर्ण है
A. संदर्भ एवं स्थिति के अनुसार अपनी बात कह सकना।
B. स्पष्ट एवं शुद्ध उच्चारण।
C. आलंकारिक भाषा का प्रयोग।
D.मधुर वाणी।

97. एक भाषा-शिक्षक के रूप में सबसे बड़ी चुनौती है
A. बच्चों को भाषा सीखने के महत्व से परिचित कराना।
B. बच्चों की भाषा को संचार साधनों के प्रभाव से मुक्त रखना।
C. भाषा-संसाधनों का अभाव है।
D. बहुभाषिक कक्षा के शिक्षण के लिए उचित रणनीतियाँ तय करना।

98. एक समावेशी कक्षा में कौन-सा कथन भाषा-शिक्षण के सिद्धांतों के प्रतिकूल है?
A. बच्चे परिवेश से प्राप्त भाषा को ग्रहण करते हुए भाषा-प्रयोग के नियम बना सकते हैं।
B. भाषा परिवेश में रहकर अर्जित की जाती है।
C. प्रिंट-समृद्ध माहौल भाषा सीखने में सहायक होता है।
D. व्याकरण के नियम सिखाने से बच्चों का भाषा-विकास शीघ्रता से होगा।

99. एक बहु-सांस्कृतिक कक्षा में आप एक भाषा-शिक्षक के रूप में किस बात को अधिक महत्व देंगे?
A. पाठ्य पुस्तक के प्रत्येक पाठ को भली-भांति समझना
B. बच्चों को व्याकरण सिखाना
C. स्वयं शुद्ध भाषा-प्रयोग
D. बच्चों को भाषा-प्रयोग के अधिक-से-अधिक अवसर देना

100.. प्राथमिक स्तर पर कौन-सा भाषा-शिक्षण का उद्देश्य नहीं है?
A. स्पष्टता एवं आत्मविश्वास के साथ अपनी बात कहना
B. वर्णमाला को क्रम से कंठस्थ करना
C. ध्वनि-संकेत चिह्नों का सम्बन्ध बनाना
D. विभिन्न संदर्भो में भाषा का प्रभावी प्रयोग करना

101. गृहकार्य के बारे में कौन-सा कथन उचित है?
A. गृह कार्य अभिभावकों को व्यस्त रखने का उत्तम साधन है।
B. बच्चों की क्षमताओं, स्तर के अनुसार गृहकार्य दिया जाना चाहिए
C. गृहकार्य कक्षा में किए गए कार्य का अभ्यास-मात्र है
D. गृहकार्य देना अति आवश्यक है ।

102. भाषा के अभिव्यक्तात्मक कौशल हैं
A. सुनना, बोलना
B. बोलना, लिखना
C. पढ़ना, लिखना
D. सुनना, पढ़ना

103. प्राथमिक स्तर पर बच्चों की भाषा शिक्षा के संदर्भ में निम्नलिखित में से कौन-सा कथन असत्य है?
A. बच्चे समृद्ध भाषा-परिवेश में सहज और स्वतः रूप से भाषा में परिमार्जन कर लेंगे
B. बच्चे भाषा की जटिल और समृद्ध संरचनाओं के साथ विद्यालय आते हैं
C. बच्चों की भाषा-संकल्पनाओं और विद्यालय में प्रचलित भाषा परिवेश में विरोधाभास ही भाषा सीखने में सहायक होता है
D. सुधार के नाम पर की जाने वाली टिप्पणियों व निरर्थक अभ्यास से बच्चों में अरुचि उत्पन्न हो सकती है

104. भाषा-कौशलों के संदर्भ में कौन-सा कथन उचित है?
A. विद्यालय में केवल ‘पढ़ना’, ‘लिखना’ कौशलों पर ही बल देना चाहिए
B. बच्चे केवल सुनना, बोलना, पढ़ना, लिखना कौशल क्रम से ही सीखते हैं
C. भाषा के चारों कौशल परस्पर अंतः सम्बन्धित हैं
D. भाषा-कौशलों के विकास में अभ्यास की अपेक्षा भाषिक नियमों का ज्ञान जरूरी है

105. पाठ में दिए गए चित्रों का क्या उद्देश्य होता है?
A. चित्रों से पाठ्य-पुस्तक आकर्षक बनती है
B. चित्र पाठ की शोभा बढ़ाते हैं
C. पाठ्य-पुस्तक में चित्र देने का प्रचलन है
D. चित्र अमूर्त संकल्पनाओं को समझने में सहायता करते हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published.

error: Content is protected !!