CTET June 2011 – Paper – I (Child Development and Pedagogy) Answer Key

51 mins read

16. कृतिका अकसर घर में ज्यादा बात नहीं करती, लेकिन विद्यालय में वह काफी बात करती है। यह दर्शाता है कि
A. शिक्षकों की यह मांग होती है कि बच्चे विद्यालय में खूब बात करें
B. कृतिका को अपना घर बिल्कुल पसंद नहीं है
C. उसके विचारों को विद्यालय में मान्यता मिलती है
D. विद्यालय हर समय बच्चों को खूब बात करने का अवसर देता

17. एक शिक्षक को अपने विद्यार्थियों की क्षमताओं को समझने का प्रयास करना चाहिए। निम्नलिखित में से कौन-सा क्षेत्र इस उद्देश्य के साथ संबद्ध है?
A. सामाजिक दर्शन
B. मीडिया मनोविज्ञान
C. शिक्षा मनोविज्ञान
D. शिक्षा-समाजशास्त्र

18. सीखने की प्रक्रिया में, अभिप्रेरणा
A. पिछले सीखे हुए को नए अधिगम से अलग करती है
B. शिक्षार्थियों को एक दिशा में सोचने के योग्य बनाती है
C. शिक्षार्थियों में सीखने के प्रति रुचि का विकास करती है
D. शिक्षार्थियों की स्मरण-शक्ति को पैना बनाती है

19. शिक्षा के क्षेत्र में पाठ्यचर्या’ शब्दावली ………. की ओर संकेत की है।
A. विद्यालय का संपूर्ण कार्यक्रम जिसमें विद्यार्थी प्रतिदिन प्राप्त करते हैं
B. मूल्यांकन प्रक्रिया
C. कक्षा में प्रयुक्त की जाने वाली पाठ्य सामग्री
D. शिक्षण-पद्धति एवं पढ़ाई जाने वाली विषय-वस्तु

20. निचली कक्षाओं में शिक्षण की खेल-पद्धति मूल रूप से आधारित है
A. शिक्षण-पद्धतियों के सिद्धांतों पर
B. विकास एवं वृद्धि के मनोवैज्ञानिक सिद्धांतों पर
C. शिक्षण के समाजशास्त्रीय सिद्धांतों पर
D. शारीरिक शिक्षा कार्यक्रमों के सिद्धांत पर

21. “एक बच्चा अतीत की समान परिस्थिति में की गई अनुक्रियाओं के आधार पर नई स्थिति के प्रति अनुक्रिया करता है।” यह किससे सम्बन्धित है?
A. सीखने का प्रभाव-नियम’
B. सीखने की प्रक्रिया का ‘अभिवृत्ति-नियम’
C. सीखने का ‘तत्परता-नियम’
D. सीखने का ‘सादृश्यता-नियम’

22. ………. ‘प्रतिभाशाली’ होने का संकेत नहीं है।
A. दूसरों के साथ झगड़ना
B. अभिव्यक्ति में नवीनता
C. जिज्ञासा
D. सृजनात्मक विचार

23. विशेष आवश्यकता वाले बच्चों को शिक्षा उपलब्ध कराई जानी चाहिए
A. विशेष विद्यालयों में विशेष बच्चों के लिए विकसित पद्धतियों द्वारा
B. विशेष विद्यालयों में
C. विशेष विद्यालयों में विशेष शिक्षकों द्वारा
D. अन्य सामान्य बच्चों के साथ

24. आकलन को ‘उपयोगी और रोचक’ प्रक्रिया बनाने के लिए .. ……. के प्रति सचेत होना चाहिए।
A. विद्यार्थियों को बुद्धिमान या औसत शिक्षार्थी की उपाधि
B. शैक्षिक और सह-शैक्षिक क्षेत्रों में विद्यार्थी के सीखने के जानकारी प्राप्त करने के लिए विविध तरीकों का प्रयोग
C. प्रतिपुष्टि (फीडबैक) देने के लिए तकनीकी भाषा का प्रयोग करना
D. अलग-अलग विद्यार्थियों में तुलना करना

25, ‘डिस्लेक्सिया’ किससे सम्बन्धित है?
A. गणितीय विकार
B. पठन विकार
C. व्यवहार-सम्बन्धी विकार
D. मानसिक विकार

26. बच्चों की सीखने की प्रक्रिया में माता-पिता को ………. भूमिका निभानी चाहिए।
A. अग्रोन्मुखी
B. सहानुभूतिपूर्ण
C. तटस्थ
D. नकारात्मक

27. “विकास कभी न समाप्त होने वाली प्रक्रिया है।” यह विचार किससे सम्बन्धित है?
A. निरंतरता का सिद्धांत
B. एकीकरण का सिद्धांत
C. अंतःक्रिया का सिद्धांत
D. अंतःसम्बन्ध का सिद्धांत

28. ‘सीखने के अंतःदृष्टि सिद्धांत’ को किसने बढ़ावा दिया?
A. पैवलॉव
B. जीन पियाजे
C. वाइगोत्स्की
D. ‘गेस्टाल्ट’ सिद्धांतवादी

29. निम्नलिखित में से किस अवस्था में बच्चे अपने समवयस्क समूह के . सक्रिय सदस्य हो जाते हैं?
A. प्रौढ़ावस्था
B. पूर्व बाल्यावस्था
C. बाल्यावस्था
D. किशोरावस्था

30. बच्चों के बौद्धिक विकास की चार विशिष्ट अवस्थाओं की पहचान की गई
A. एरिकसन द्वारा
B. स्किनर द्वारा
C. पियाजे द्वारा
D. कोलबर्ग द्वारा

Leave a Reply

Your email address will not be published.

error: Content is protected !!