CTET July 2013 – Paper – I (Child Development and Pedagogy) Answer Key

60 mins read

परीक्षा (Exam) – CTET Paper I Primary Level (Class I to V)
भाग (Part) – Part – I – बाल विकास और शिक्षाशास्त्र (Child Development and Pedagogy)
परीक्षा आयोजक (Organized) – CBSE
कुल प्रश्न (Number of Question) – 30
परीक्षा तिथि (Exam Date) – July 2013


निर्देशः निम्नलिखित प्रश्नों के उत्तर देने के लिए सबसे उचित विकल्प चुनिए।

1. ______ के अतिरिक्त बुद्धि के निम्नलिखित पक्षों को स्टेनबर्ग के त्रितंत्र सिद्धांत में संबोधित किया गया है।
A. अवयवभूत
B. सामाजिक
C. आनुभविक
D. संदर्भगत

2. हावर्ड गार्डनर का बुद्धि का सिद्धांत ____ पर बल देता है।
A. सामान्य बुद्धि
B. विद्यालय में आवश्यक समान योग्यताओं,
C. प्रत्येक व्यक्ति की विलक्षण योग्यताओं
D. शिक्षार्थियों में अनुबंधित कौशलों

3. थ, फ, च ध्वनियाँ हैं
A. रूपिम
B. लेखीम
C. शब्दिम
D. स्वनिम

4. कक्षा में जेंडर रूढ़िबद्धता से बचने के लिए एक शिक्षक को
A. लड़के-लड़कियों को एक साथ अ-पारंपरिक भूमिकाओं में रखना चाहिए।
B. ‘अच्छी लड़की’, ‘अच्छा लड़का’ कहकर शिक्षार्थियों के अच्छे – कार्य की सराहना करनी चाहिए।
C. कुश्ती में भाग लेने के लिए लड़कियों को निरुत्साहित करना।
D. लड़कों को जोखिम उठाने और निर्भीक बनने के लिए प्रोत्साहित करना।

5. विद्यालयों को किसके लिए वैयक्तिक भिन्नताओं को पूरा करना चाहिए?
A. वैयक्तिक शिक्षार्थियों के मध्य खाई को कम करने के लिए।
B. शिक्षार्थियों के निष्पादन और योग्यताओं को समान करने के लिए।
C. यह समझने के लिए कि क्यों शिक्षार्थी सीखने के योग्य या अयोग्य हैं।
D. वैयक्तिक शिक्षार्थी को विशिष्ट होने की अनुभूति कराने के लिए।

6. शिक्षार्थियों में वैयक्तिक भिन्नताओं को संबोधित करने के लिए एक विद्यालय किस प्रकार का सहयोग उपलब्ध करवा सकता है?
A. बाल-केंद्रित पाठ्यचर्या का पालन करना और शिक्षार्थियों को सीखने के अनेक अवसर उपलब्ध कराना।
B. शिक्षार्थियों में वैयक्तिक भिन्नताओं को समाप्त करने के लिए हर संभव उपाय करना।
C. धीमी गति से सीखने वाले शिक्षार्थियों को विशेष विद्यालयों में भेजना।
D. सभी शिक्षार्थियों के लिए समान स्तर की पाठ्यचर्चा का अनुगमन करना।

7. सतत और व्यापक मूल्यांकन पर बल देता है।
A. सीखने को सुनिश्चित करने के लिए व्यापक स्केल पर निरंतर परीक्षण
B. सीखने को किस प्रकार अवलोकित, रिकार्ड और सुधारा जाए इस पर
C. शिक्षण के साथ परीक्षाओं का सामंजस्य
D. बोर्ड परीक्षाओं की अनावश्यकता पर

8. विद्यालय आधारित आकलन
A. शिक्षा-बोर्ड की जवाबदेही कम कर देता है।
B. सार्वभौमिक राष्ट्रीय मानकों की प्राप्ति में बाधा उत्पन्न करता है।
C. परिचित वातावरण में अधिक सीखने में सभी शिक्षार्थियों की मदद करता है।
D. शिक्षार्थियों और शिक्षकों को अगंभीर और लापरवाह बनाता है।

9. ‘सीखने की तत्परता’ की ओर संकेत करती है।
A. शिक्षार्थियों का सामान्य योग्यता स्तर
B. सीखने के सातत्यक में शिक्षार्थियों का वर्तमान संज्ञानात्मक स्तर
C. सीखने के कार्य की प्रकृति को संतुष्ट करने
D. थॉर्नडाइक का तत्परता का नियम

10. एक शिक्षिका की कक्षा में कुछ शारीरिक विकलांगता वाले बच्चे हैं। निम्नलिखित में से उसके लिए क्या कहना सबसे उचित होगा?
A. पहिया-कुर्सी वाले बच्चे हॉल में जाने के लिए अपने समवयस्क साथी बच्चों से मदद ले सकते हैं।
B. शारीरिक रूप से असुविधाग्रस्त बच्चे कक्षा में ही कोई वैकल्पिक गतिविधि कर सकते हैं।
C. मोहन खेल के मैदान में जाने के लिए आप अपनी बैसाखियों का प्रयोग क्यों नहीं करते?
D. पोलियोग्रस्त बच्चे एक गाना प्रस्तुत करेंगे।

11. ___ के अतिरिक्त निम्नलिखित सभी के कारण अधिगम अक्षमता उत्पन्न हो सकती है।
A सेरेब्रल डिस्फंक्शन
B. संवेगात्मक विघ्न
C. व्यवहारगत विघ्न
D. सांस्कृतिक कारक

12. एक समावेशी विद्यालय ।
A. शिक्षार्थियों की क्षमताओं की परवाह किए बिना सभी के अधिगम-परिणामों को सुधारने के लिए प्रतिबद्ध होता है।
B. शिक्षार्थियों के मध्य अंतर करता है और विशेष रूप से सक्षम बच्चों के लिए कम चुनौतीपूर्ण उपलब्धि लक्ष्य निर्धारित करता है।
C. विशेष रूप से योग्य शिक्षार्थियों के अधिगम-परिणामों को सुधारने के लिए विशिष्ट रूप से प्रतिबद्ध होता है।
D. शिक्षार्थियों की निर्योग्यता के अनुसार उनकी सीखने की आवश्यकताओं को निर्धारित करता है।

13. प्रतिभाशाली शिक्षार्थी (को)
A. ऐसे सन्झ्योग की आवश्यकता होती है जो सामान्यतः विद्यालयों द्वारा उपलब्ध नहीं कराए जाते।
B. शिक्षक के बिना अपने अध्ययन को व्यवस्थित कर लेते हैं।
C. अन्य शिक्षार्थियों के लिए अच्छे मॉडल बन सकते हैं।
D. अधिगम-निर्योग्य नहीं हो सकते।

14. ______ के कारण प्रतिभाशालिता होती है। …
A. आनुवंशिक रचना
B. वातावरणीय अभिप्रेरणा
C. (A) और (B) का संयोजन
D. मनो-सामाजिक कारकों

15. बच्चों में सीखने और सुनने के लिए अधिगम योग्य वातावरण के लिए निम्नलिखित में से कौन उपयुक्त है?
A. एक लंबे समय के लिए निष्क्रिय रूप से सुनना।
B. निरंतर गृहकार्य देते रहना।
C. सीखने वाले द्वारा व्यक्तिगत कार्य करना।
D. शिक्षार्थियों को कुछ यह छूट देना कि क्या सीखना है और कैसे सीखना है।

Leave a Reply

Your email address will not be published.

error: Content is protected !!