CTET February 2014 – Paper – I (Child Development and Pedagogy) Answer Key

69 mins read

परीक्षा (Exam) – CTET Paper I Primary Level (Class I to V)
भाग (Part) – Part – I – बाल विकास और शिक्षाशास्त्र (Child Development and Pedagogy)
परीक्षा आयोजक (Organized) – CBSE
कुल प्रश्न (Number of Question) – 30
परीक्षा तिथि (Exam Date) – February 2014


निर्देशः निम्नलिखित प्रश्नों के उत्तर देने के लिए सबसे उचित विकल्प चुनिए।।

1. के. मा. शि. बो. (CBSE) द्वारा अपनाए गए प्रगतिशील शिक्षा के प्रतिमान में बच्चों का समाजीकरण जिस प्रकार से किया जाता है, उससे अपेक्षा की जा सकती है कि
A. वे समय नष्ट करने वाली सामाजिक आदतों प्रकृति का त्याग करें तथा सीखें कि किस प्रकार अच्छी श्रेणियाँ पाई जा सकती हैं (score good grades)
B. वे सामूहिक कार्य में सक्रिय भागीदारिता का निर्वाह करें तथा सामाजिक कौशल सीखें
C. वे बिना प्रश्न उठाए समाज के नियमों-विनियमों का अनुपालन करने के लिए तैयार हो सकें
D. किसी भी प्रकार की सामाजिक पृष्ठभूमि होते हुए भी वे वह सब स्वीकार करें जो उन्हें विद्यालय द्वारा प्रदान किया जाता है

2. निम्नलिखित में से कौन-सा वाइगोत्स्की के सामाजिक-सांस्कृतिक सिद्धान्त पर आधारित है?
A. सक्रिय अनुकूलन
B. पारस्परिक शिक्षण
C. संस्कृति-निरपेक्ष संज्ञानात्मक विकास
D. अन्तर्दृष्टिपूर्ण अधिगम

3. एक शिक्षिका अपनी कक्षा से कहती है, “सभी प्रकार के प्रदत्त कार्यों (assignments) का निर्माण इस प्रकार किया गया है कि प्रत्येक विद्यार्थी अधिक प्रभावशाली ढंग से सीख सके, अतः सभी विद्यार्थी बिना किसी अन्य की सहायता से अपना कार्य पूर्ण करें।”
वह कोलबर्ग के किस नैतिक विकास के चरण की ओर संकेत दे रही
A औपचारिक चरण − कानून और व्यवस्था
B. पर-औपचारिक चरण − सामाजिक संविदा
C. पूर्व-औपचारिक चरण − दण्ड परिवर्तन
D. पूर्व-औपचारिक चरण − वैयक्तिकता और विनिमय

4. 14 वर्षीय देविका अपने-आप में पृथक्, स्व-नियंत्रित व्यक्ति की भावना को विकसित करने का प्रयास कर रही है। वह विकसित कर रही है
A. नियमों के प्रति घृणा
B. स्वायत्तता,
C. किशोरावस्थात्मक अक्खड़पन
D. परिपक्वता

5. प्रगतिशील शिक्षा के संदर्भ में निम्नलिखित में से कौन-सा कथन जॉन ड्यूई के अनुसार समुचित है?
A. कक्षा में प्रजातंत्र का कोई स्थान नहीं होना चाहिए
B. विद्यार्थियों को स्वयं ही सामाजिक समस्याओं को सुलझाने में सक्षम होना चाहिए
C. जिज्ञासा विद्यार्थियों के स्वभाव में अन्तर्निहित नहीं है अपितु इसका कर्षण/संवर्धन करना चाहिए।
D. कक्षा में विद्यार्थियों का निरीक्षण करना चाहिए न कि सुनना चाहिए

6. भाषा-अवबोधन से सम्बद्ध विकार है ..
A. चलाघात (apraxia)
B. पठन-वैकल्य (dyslexia)
C. वाक्-सम्बद्ध रोग (aspeechxia)
D. भाषाघात (aphasia)

7. निम्नलिखित में से कौन-सा आलोचनात्मक दृष्टिकोण ‘बहु-बुद्धि सिद्धान्त’ (Theory of Multiple Intelligence) से सम्बद्ध नहीं है?
A यह शोधाधारित नहीं है
B. विभिन्न बुद्धियाँ भिन्न-भिन्न विद्यार्थियों के लिए विभिन्न पद्धतियों की माँग करती हैं
C. प्रतिभाशाली विद्यार्थी प्रायः एक क्षेत्र में ही अपनी विशिष्टता . प्रदर्शित करते हैं
D. इसका कोई अनुभवात्मक आधार नहीं है

8. ‘बहु-बुद्धि सिद्धान्त’ को वैध नहीं माना जा सकता, क्योंकि
A. विशिष्ट परीक्षणों के अभाव में भिन्न बुद्धिमत्ता (different intelligence) का मापन सम्भव नहीं है
B. यह सभी सात बुद्धियों को समान महत्व नहीं देता है
C. यह केवल अब्राहम मैस्लो के जीवनभर के सुदृढ़ अनुभवात्मक अध्ययन पर आधारित है
D. यह सर्वाधिक महत्वपूर्ण सामान्य बुद्धि ‘g’ के अनुकूल (सुसंगत) नहीं है

9. कक्षा में विद्यार्थियों के वैयक्तिक विभेद
A. लाभकारी नहीं हैं, क्योंकि अध्यापकों को वैविध्यपूर्ण कक्षा को नियंत्रित करने की आवश्यकता है
B. हानिकारक हैं, क्योंकि इनसे विद्यार्थियों में परस्पर द्वन्द्व उत्पन्न होते हैं ।
C. अनुपयुक्त हैं, क्योंकि ये सर्वाधिक मन्द विद्यार्थी के स्तर तक पाठ्यचर्या के स्थानान्तरण की गति को कम करते हैं ।
D. लाभकारी हैं, क्योंकि ये विद्यार्थियों की संज्ञानात्मक संरचनाओं को खोजने में अध्यापकों को प्रवृत्त करते हैं ।

10. विद्यालय-आधारित आकलन प्रारम्भ किया गया था ताकि
A. राष्ट्र में विद्यालयी शिक्षा संगठनों (Boards) की शक्ति का विकेन्द्रीकरण किया जा सके
B. सभी विद्यार्थियों के सम्पूर्ण विकास को निश्चित किया जा सके
C. विद्यार्थियों की उन्नति की बेहतर व्याख्या के लिए उनकी सभी गतिविधियों के नियमित अभिलेखन हेतु अध्यापकों को अभिप्रेरित किया जा सके..
D. विद्यालय अपने क्षेत्रों में विद्यमान अन्य विभिन्न विद्यालयों की तुलना में प्रतियोगिता द्वारा अपनी विशिष्टता का प्रदर्शन करने हेतु अभिप्रेरित हो सकें

11. निम्नलिखित में से कौन-सा एक अन्य विकल्पों से सम्बद्ध नहीं है?
A. प्रश्नोत्तर सत्रों को संगठित करना
B. किसी विषय पर विद्यार्थियों की प्रतिक्रिया को लेना
C. प्रश्नोत्तरी (Quiz) परिचालित करना
D. स्व-आकलन के कौशल को प्रतिमानित करना

12. निम्नलिखित में से कौन-सा प्रश्न अपने विशिष्ट क्षेत्र से ठीक तरह से मिला हुआ है?
A. क्या आप अपने विद्यार्थियों को उनकी गणित की उपलब्धि के आधार पर वर्गीकृत कर सकते हैं? − मूल्यांकन
B. पिछली रात दूरदर्शन पर दिखाए गए क्रिकेट मैच में निर्णायक क्षण (turning point) कौन-सा था? − सृजनशील
C. जड़ी-बूटियों के प्रयोग द्वारा चिकेन पकाने हेतु कोई नई पाकविधि लिखिए। − अनुप्रयोग
D. निर्धारित कीजिए कि दिए गए मापकों में से कौन-सा मापक आपको. उत्तम परिणामों को पाने में सर्वाधिक ‘प्रवृत्त कर सकता है। − विश्लेषण

13. निम्नलिखित में से कौन-सी सर्वाधिक प्रभावकारी विधि हो सकती है. जो आपकी इस अपेक्षा को पूरी कर सके कि वंचित विद्यार्थी अपनी भागीदारिता द्वारा सफल हो सकें?
A. आप उनकी सफलता हेतु उनकी क्षमता में विश्वास को अभिव्यक्त करें
B. पढ़ाए जाने वाले विषय में आप अपनी रुचि विकसित करना
C. अपने लक्ष्य को महसूस करने के लिए बच्चों की – प्रायः तुलना करते रहना
D. इस बात पर बल देना कि आपकी उनसे उच्च अपेक्षा है

14. निम्नलिखित में से कौन-सा विकासात्मक विकार का उदाहर
A आत्मविमोह (Autism)
B. प्रमस्तिष्क घात (Cerebral palsy)
C. पर-अभिघातज तनाव (Post-traumatic stress)
D न्यन अवधान सक्रिय विकार (Attention deficit hyperactivity disorder)

15. बहशिक्षण-शास्त्रीय तकनीके, वीकृत अधिगम सामग्री, बहु-आकलन तकनीकें तथा परिवर्तनीय जटिलता एवं सामग्री का स्वरूप निम्नलिखित में से किससे सम्बद्ध हैं?
A. सार्वभौमिक अधिगम प्रारूप
B. उपचारात्मक शिक्षण
C. विभेदित अनुदेशन
D. पारस्परिक शिक्षण,

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Previous Story

CTET September 2014 – Paper – I (English Language) Answer Key

Next Story

नृत्य कलानिधि पुरस्कार (Nritya Kalanidhi Award)

error: Content is protected !!