प्रमुख धातुएँ एवं इनका प्रयोग

सोडियम (Sodium): Na   गलित सोडियम का प्रयोग नाभिकीय रियेक्टरों में शीतलकों (Coolent) के रूप में किया जाता है। सोडियम वाष्प का प्रयोग सोडियम लैम्पों (sodium lamps) में किया जाता है। सोडियम क्लोराइड

धातु एवं अधातु (Metals & Non-metals)

धातु (Metals)  आवर्त सारणी (periodic table) के अधिकांश तत्वों में धात्विक गुण पाये जाते हैं, जैसे- लोहा (iron), सोना (gold), सोडियम (sodium), कैल्सियम (calcium) आदि। आवर्त सारणी में धातु तत्वों को मुख्य

अम्ल, क्षार एवं लवण (Acids, Bases & Salts)

अम्ल (Acid) वह पदार्थ जिसमें जल मिलाने पर वह हाइड्रोजन आयन (H+ ) आयन मुक्त करता है, अम्ल (Acid) कहलाता है। अम्ल (acids) मुख्यत: दो प्रकार के होते हैं कार्बनिक  अम्ल (Organic Acid)

परमाणु एवं अणु (Atom & Molecule)

परमाणु  (Atom) किसी भी पदार्थ की वह इकाई होती है, जो पदार्थ की प्रवृत्ति को समझने के अति आवश्यक होती है। किसी भी पदार्थ में उसके सूक्ष्मतम इकाई के गुणों की पुनरावृत्ति

डॉल्टन का परमाणु सिद्धान्त (Dalton’s atomic theory)

डॉल्टन ने द्रव्यों (Matter) की प्रकृति के बारे में आधारभूत सिद्धांत प्रस्तुत किया। सर्वप्रथम ग्रीक दार्शनिकों (Greek philosophers) के द्वारा द्रव्य के सूक्ष्मतम कण, को परमाणु (Atomic) नाम दिया गया, डॉल्टन द्वारा

द्रव्य की प्रकृति (Nature of matter)

वह कोई भी वस्तु, जिसका द्रव्यमान होता है और स्थान घेरती है, द्रव्य (Matter) कहलाती है। हमारे आसपास की सभी वस्तुएँ द्रव्य द्वारा बनी होती हैं। जैसे – पुस्तक, कलम, पेन्सिल, जल,

रसायन विज्ञान (Chemistry)

विज्ञान की वह शाखा जिसके अंतर्गत तरल पदार्थों (द्रव्य) की संरचना, ऊष्मा (Heat) और ऊर्जा (energy) में परिवर्तन और उनकी परस्पर क्रिया का अध्ययन किया जाता है, रसायन विज्ञान (Chemistry) कहलाता है।