विलयन (Solution)

दो या दो से पदार्थों के समांगी मिश्रण (Homogeneous mixture) को विलयन कहते है। जैसे – नींबू पानी, सोडा आदि। किसी भी विलयन को दो भागों में विभक्त किया जा सकता है। विलेय (Solute) – वह पदार्थ जिसमें घुलने की प्रवृति होती है, उसे विलेय कहते है।

Continue Reading..

रदरफोर्ड का परमाणु मॉडल (Rutherford’s atomic model)

रदरफोर्ड (Rutherford) ने थॉमसन के परमाणु मॉडल (Thomson’s atomic model) की प्रामाणिकता को साबित करने के लिए प्रयोग किया, किंतु इसके परिणाम बिल्कुल अलग थे जिन्होंने थॉमसन के परमाणु मॉडल (Thomson’s atomic model) को पूरी तरह से नकार दिया। रदरफोर्ड का प्रयोग रदरफोर्ड ने अपने

Continue Reading..

जे. जे. थॉमसन का परमाणु मॉडल (J. J. Thomson’s atomic model)

जे. जे. थॉमसन के  परमाणु मॉडल (J. J. Thomson’s atomic model) के अनुसार परमाणु (atom) एक धनावेशित गोला होता है, जिसका निर्माण प्रोटॉनों (protons) से मिलकर होता है, और ऋणावेश युक्त इलेक्ट्रान (electrons) इस धनात्मक गोले (positive sphere) में बिना किसी विशिष्ट विन्यास (specific configurations)

Continue Reading..

नील्स बोर के परमाणु मॉडल (Niels Bohr’s atomic model)

वर्ष 1885 में नील्स हेनरिक डेविड बोर (Niels Heinrich David Bohr) का जन्म को डेनमार्क (Denmark) में हुआ, और वर्ष 1913 में नील्स बोर द्वारा रदरफोर्ड  के परमाणु मॉडल (Rutherford’s atomic model) की त्रुटियों को दूर करते हुए तथा प्लांक के क्वाण्टम सिद्धांत (Planck’s quantum

Continue Reading..

रेडियोएक्टिवता (Radioactivity)

रेडियोएक्टिवता (Radioactivity) कुछ ऐसे परमाण्विक नाभिक (atomic nuclei) होते हैं, जो बहुत ही अस्थायी होते हैं और अतिशीघ्र दूसरे तुलनात्मक स्थायी नाभिक में परिवर्तित होने की प्रवृत्ति रखते हैं। तत्वों के नाभिकों का यह गुण रेडियाएक्टिविटी/रेडियोधर्मिता (Radioactivity) कहलाता है। जब यह नाभिक प्रकृति में स्वतः ही

Continue Reading..

द्रव्यों से संबंधित प्रमुख सिद्धान्त

घनत्व (Density) किसी वस्तु के इकाई आयतन का जितना द्रव्यमान (mass) होता है, उसे उस पदार्थ (matter) का घनत्व (Density) कहा जाता है। विभिन्न द्रव्यों का घनत्व (Density) भी भिन्न-भिन्न होता है। अधिक घनत्व (Density) वाली वस्तुएँ भारी जबकि कम घनत्व वाले वस्तुएँ हल्की होती

Continue Reading..

द्रव्यों की अवस्था में परिवर्तन

द्रव्यों की अवस्था में परिवर्तन उनका भौतिक गुण होता है। अतः किसी द्रव्य (matter) को एक अवस्था से दूसरी अवस्था में परिवर्तित किया जा सकता हैं। जैसे – लोहे को अत्यधिक गर्म करने पर वह पिघल कर द्रव अवस्था (liquid state) में परिवर्तित हो जाता

Continue Reading..

द्रव्य एवं उसके भौतिक गुण (Matter & its physical properties)

वह कोई भी वस्तु, जिसका द्रव्यमान होता है और स्थान घेरती है, द्रव्य (Matter) कहलाती है। हमारे आसपास की सभी वस्तुएँ द्रव्य द्वारा बनी होती हैं। जैसे – पुस्तक, कलम, पेन्सिल, जल, वायु आदि सभी जीव द्रव्य से बने होते हैं। द्रव्य के भौतिक गुण

Continue Reading..

प्रमुख अधातुएँ एवं इनका उपयोग

नाइट्रोजन (Nitrogen – N)-  आयतन की दृष्टि से यह वायुमण्डल का 78% भाग है जबकि वायुमण्डल सहित सम्पूर्ण पृथ्वी पर नाइट्रोजन 0.01% है। यदि वायुमण्डल में नाइट्रोजन (Nitrogen) न हो तो सिर्फ आक्सीजन की उपस्थिति से सम्पूर्ण संसार जलकर भस्म हो जाता। रेफ्रिजरेटरों (Refrigerators) तथा

Continue Reading..

अक्रिय गैसें (Inert gases)

हीलियम (Helium – He) परमाणु क्रमांक (Atomic Number) – 2, परमाणु भार (Atomic Weight) – 4 सर्वाधिक हल्की होने के कारण हीलियम गैस (helium gas) का प्रयोग मौसम संबंधी गुब्बारे तथा वायुयान  (aircraft) के टायरों में भरने के लिए किया जाता है। समुद्री गोताखोर तथा

Continue Reading..