पादपों में होने वाली विभिन्न क्रियाएं

प्रकाश संश्लेषण (Photosynthesis) इस प्रक्रिया में पर्णहरित युक्त हरे पौधे सूर्य के प्रकाश की उपस्थित में कार्बनिक पदार्थ लेकर ग्लूकोज के रूप में अपना भोजन बनाते हैं और ऑक्सीजन को वायुमंडल में

पादप रोग (Plant Diseases)

वायरस से जनित रोग –  TMV (टोबैको मोसैक वायरस) वायरस क्लोरोफिल को नष्ट कर देता है और पत्तियां सिकुड़ जाती हैं। जीवाणु से जनित रोग कवक से जनित रोग  महत्वपूर्ण पौधों के

पादपों के महत्वपूर्ण अंग

पत्ती (Leaf) – इसकी सहायता से पौधे में प्रकाश संश्लेषण की क्रिया होती है। पुष्प (Flower) – पुष्प एक विशेष प्रकार का रूपांतरित प्ररोह (shoot) है, जो तने एवं शाखाओं के शिखाग्र

पादप हार्मोन (Plant Hormones)

पौधों में होने वाली जैविक क्रियाओं के बीच समन्वय स्थापित करने वाले रासायनिक पदार्थों को पादप हार्मोन या फाइटोहार्मोन कहते हैं। ये पौधों की वृद्धि एवं अनेक उपापचयी क्रियाओं को नियंत्रिक एवं

पादप ऊतक (Plant Tissue)

पादपों को समान उत्पत्ति तथा समान कार्यों को सम्पादित करने वाली कोशिकाओं के समूह को ऊतक कहते हैं। ऊतक के अध्ययन करने को ऊतक विज्ञान (Histology) कहा जाता है। ऊतक शब्द का

पादपों का वर्गीकरण (Classification of Plants)

पादपों (Plants) के अन्तर्गत पृथ्वी पर मिलने वाले पौधों की पहचान तथा पारस्परिक समानताओं व असमानताओं के आधार पर उनका वर्गीकरण किया जाता है। विश्व में वर्तमान तक विभिन्न प्रकार के पौधों

वनस्पति विज्ञान (An Introduction to Botany)

आदिकालीन जमीनी वनस्पतियों में जड़ें, पत्तियां या फूल नहीं थे। परंतु उनमें एक सुस्पष्ट केन्द्रीय नलिका थी जो पोषक तत्वों के परिवहन के काम आती थी। उनमें अंकुरों के ऊपर स्टोमा अनावृतबीजी-शंक्वाकार

औषधियां (Drugs)

औषधियां रोगों के इलाज में काम आती हैं। प्रारंभ में औषधियां पेड़-पौधों, जीव-जंतुओं से प्राप्त की जाती थीं, लेकिन नए-नए तत्वों की खोज हुई तथा उनसे नई-नई औषधियां कृत्रिम विधि से तैयार

प्रतिरक्षा विज्ञान (Immunology)

प्रतिरक्षा प्रणाली के अध्ययन को प्रतिरक्षा विज्ञान (Immunology) का नाम दिया गया हैं। इसके अध्ययन में प्रतिरक्षा प्रणाली संबंधी सभी बड़े-छोटे कारणों की जांच की जाती हैं। इसमें प्रणाली पर आधारित स्वास्थ्य