बेलम गुफा महोत्सव (Belum Cave Festival)

5 mins read

बेलम गुफाओं को लोकप्रिय बनाने के लिए आंध्र प्रदेश सरकार जनवरी 2020 में बेलम गुफा महोत्सव (Belum Cave Festival) का आयोजन करेगी।

  • इस महोत्सव के लिए ‘कांडनवोलू सांभरालु’ नाम प्रस्तावित किया गया है। कंदनवोलू, कुरनूल जिले का प्राचीन नाम था।

स्थान (Location): बेलम गुफाएं (Belam Caves), जिसे आंध्र प्रदेश के कुरनूल जिले में बेलम गुहलू के रूप में भी जाना जाता है, यह आम जन के लिए खुली भारतीय उपमहाद्वीप में दूसरी सबसे लंबी गुफा है।

भारतीय उपमहाद्वीप में सबसे लंबी प्राकृतिक गुफा मेघालय में क्रेम लियत प्राहा गुफाएं (Krem Liat Prah caves) हैं।

गठन − यह गुफा एक हजार वर्ष  से अधिक पुरानी है, और भूमिगत पानी के निरंतर प्रवाह द्वारा बनाई गई थी।
भौगोलिक विशेषताएं − ये गुफाएं अपने स्पेलोटेम संरचनाओं (speleothem structures) के लिए प्रसिद्ध हैं (स्पेलोथेम्स एक गुफा में गठित द्वितीयक खनिज भंडार हैं), जैसे कि स्टैलेक्टाइट और स्टैलेग्मिट संरचनाओं (stalactite and stalagmite formations)।
ऐतिहासिक पृष्ठभूमि − कई शताब्दी पूर्व इन गुफाओं पर जैन और बौद्ध भिक्षुओं का अधिकार था।

Leave a Reply

Your email address will not be published.

error: Content is protected !!