atom and molecule

परमाणु एवं अणु (Atom & Molecule)

14 mins read

परमाणु  (Atom) किसी भी पदार्थ की वह इकाई होती है, जो पदार्थ की प्रवृत्ति को समझने के अति आवश्यक होती है। किसी भी पदार्थ में उसके सूक्ष्मतम इकाई के गुणों की पुनरावृत्ति ही होती है। जैसे – लोहे के 1 Kg के टुकड़े में वही गुण होंगे, जो लोहे के एक परमाणु में होते हैं। अतः पदार्थों की क्रियाशीलता को उनके द्वारा निर्मित बंध, उनके स्थायित्व आदि को उस पदार्थ की सबसे छोटी इकाई (परमाणु) से समझा जा सकता है। यही परमाणु  (Atom) आपस में संयुक्त होकर अणु (Molecule) बनाते हैं। अणु (Molecule) प्रकृति में स्वतंत्र रूप से अस्तित्व रखता है।

atom and molecule

परमाणु (Atom)

किसी भी पदार्थ का वह सूक्ष्मतम कण, जो स्वतंत्र सत्ता में नहीं रहता है, किन्तु रासायनिक अभिक्रिया में भाग लेता है, परमाणु (Atom) कहलाता है। जैसे – H, Cl, Na ये सभी परमाणु हैं और वातावरण में इन परमाणुओं (Atoms) का स्वतंत्र अस्तित्व नहीं होता, वातावरण में ये परमाणु अपने यौगिकों में ये अणुओं (Molecules) के रूप में विद्यमान रहते हैं।

परमाणु की संरचना (Structure of Atom)

लगभग 400 ई.पू. ही भारतीय एवं यूनानी दार्शनिकों (Indian and Greek philosophers) द्वारा परमाणुओं के अस्तित्व को प्रस्तावित किया गया था। उनके अनुसार परमाणु (Atom) द्रव्य (Matter) के मूल संरचनात्मक भाग होते हैं, तथा किसी भी पदार्थ (Matter) के लगातार विभाजन के पश्चात अंततः परमाणु प्राप्त होते हैं, जिसे और अधिक विभाजित नहीं किया जा सकता। परमाणु (atom) शब्द की उत्पत्ति ग्रीक भाषा से हुई है, जिसमें atomio का अर्थ अविभाज्य’ (non-divisible) होता है।

वर्ष 1886 ई. में गोल्डस्टीन (E. Goldstein) ने एक नए विकिरण ‘केनाल रे’ की खोज की। ये किरणें धनावेशित विकिरण थीं, जिसके द्वारा अंततः दूसरे अवपरमाणुक कणों की खोज हुई। 19वीं शताब्दी तक यह ज्ञात हो गया था कि परमाणु (atom) में एक नकारात्मक आवेश वाला कण होता है। सर्वप्रथम जे. जे. थॉमसन (J.J. Thomson) द्वारा परमाणु में नकारात्मक आवेश (negative charge) वाले कण इलेक्ट्रान (electrons) का पता लगाया गया था। अतः प्रारंभिक अवस्था में यह माना गया कि  परमाणु समान धनात्मक और  नकारात्मक आवेश वाले कणों से मिलकर बना होता है, जो एक-दूसरे के प्रति उदासीन करते हैं । परमाणु की संरचना को व्यक्त करने के विभिन्न वैज्ञानिकों द्वारा दिए गए कुछ परमाणु मॉडल निम्नलिखित है –

  • डाल्टन का परमाणु सिद्धांत (Dalton’s atomic theory)
  • जे जे थॉमसन का परमाणु मॉडल (JJ Thomson’s Atomic Model)
  • रदरफोर्ड का परमाणु मॉडल (Rutherford’s atomic model)
  • बोर का परमाणु मॉडल (Bore’s atomic model)

अणु (Molecule) 

किसी भी पदार्थ का वह सूक्ष्म कण जो स्वतंत्र अस्तित्व रखता है और जिसमें पदार्थ के सभी गुण विध्यमान रहते हैं, अणु (Molecule) कहलाता हैं। अणु (Molecule) परमाणुओं के सरल अनुपात में संयोग से मिलकर बनता है। जैसेH, Cl, H2O ये तीनों ही अणु (Molecule) हैं। अणु एक ही प्रकार के परमाणुओं से या विभिन्न प्रकार के परमाणुओं से मिलकर बना हो सकता है।

परमाणु और अणुओं में अंतर  (Difference between atoms and molecules)

परमाणु (Atom)अणु (Molecule)
यह किसी पदार्थ का वह सूक्ष्मतम कण है जो अधिकांशत: स्वतंत्र अवस्था में नहीं रह सकता है। यह पदार्थ का वह सूक्ष्मतम का है जो स्वतंत्र अवस्था में रह सकता है।
परमाणु अविभाज्य होते है।अणु को एक से अधिक परगणुओं में विभाजित किया जा सकता है।
परमाणु इलेक्ट्रॉन, प्रोटॉन एवं न्यूट्रॉन से मिलकर बने होते है।अणु, परमाणुओं से मिलकर बने होते है।
उदाहरण - N (नाइट्रोजन का एक परमाणु)उदाहरण - N2, (नाइट्रोजन का एक अणु)

Leave a Reply

Your email address will not be published.

error: Content is protected !!