कोरोना वायरस (COVID – 19) (सावधान रहें, भयभीत न हों)

COVID-19 एक संक्रामक रोग है, जो हाल ही में खोजे गए नोवेल कोरोना वायरस के कारण होता है। यह कैसे संचारित (फैलता) होता है? जब COVID-19 बीमारी से पीड़ित व्यक्ति छींकता है या

हॉर्मोन्स और इसके प्रभाव (Hormones & its effects)

हार्मोन/ग्रन्थिरस एक जटिल कार्बनिक पदार्थ हैं, जो जीवित जीवों में होने वाले विभिन्न जैव रासायनिक कार्यों, वृद्धि और विकास, प्रजनन आदि को नियमन और नियंत्रण करते है। हार्मोन कोशिकाओं (cells) और ग्रंथियों

मानव रोग (Human disease, Part – II)

फाइलेरिया (Filaria) – यह रोग अनेक प्रकार के सूत्रकृमियों के कारण होता है। इस रोग से लसीका वाहिनियां (Lymph Vessels) और ग्रन्थियां (Glands) फूल जाती हैं। मलेरिया की भांति इस रोग के

मानव रोग (Human disease, Part – I)

सामान्यतः कहा जाता है कि स्वस्थ शरीर में ही स्वस्थ मस्तिष्क निवास करत है। किन्तु अच्छे स्वास्थ्य में व्यवधान उत्पन्न होना ही रोग (Diseases) है। मानव शरीर में विभिन्न विकारों को उनकी

मानव नेत्र (Human eye)

नेत्र एक अत्यंत ही महत्वपूर्ण ज्ञानेंद्रिय है। यह हमारा नेत्र ही है जो हमें अपने चारों ओर फैली रंगीन दुनिया को देखने में सक्षम बनाती है। नेत्र कार्य एक कैमरे के कार्य

रुधिर वाहिकाएं/नलिकाएं (Blood Vessels)

यद्यपि हृदय परिसंचरण तंत्र का केन्द्रीय भाग है लेकिन पूरे शरीर में रक्त का संचारण रक्तवाहिनियों के द्वारा ही होता है। रक्त वाहिनिया निम्न प्रकार की होती हैं: महाधमनी (Aorta) और धमनियां

परिसंचरण तंत्र (Circulatory System)

सभी छोटे-बड़े जंतुओं के शरीर के भीतर ऑक्सीजन, भोजन, हॉर्मोन्स आदि पदार्थों को आवश्यकतानुसार उपयुक्त अंगों में पहुंचाने के लिए एक सुविकसित परिसंचारी तंत्र होता हैं, जिसे परिसंचरण तंत्र (Circulatory System) कहते

रूधिर समूह (Blood Group)

रूधिर समूह (Blood Group) की खोज K. Landsteiner ने 1900-1902 में की। मानव रक्त को A,B,O रक्त वर्ग समूह (ABO blood grouping system) द्वारा A, B, AB एवं O चार वर्गों में

मानव पाचन तंत्र (Human digestive system)

मनुष्य का पाचन तंत्र आहार नाल एवं सहायक ग्रंथियों से मिलकर बना होता है। मनुष्य के पाचन में पांच मुख्य ग्रंथियां सहायक होती हैं, जो निम्नलिखित है पित्ताशयी ग्रंथि (Gall bladder) पित्ताशयी

पाचन तंत्र (Digestive System)

हमारे भोजन के मुख्य अवयव कार्बोहाइड्रेट, प्रोटीन एवं वसा हैं। अल्प मात्रा में विटामिन एवं खनिज लवणों की भी आवश्यकता होती है। हमारा शरीर भोजन में उपलब्ध जैव-रसायनों का उनके मूल रूप

1 2 3 5